अमेरिका का वादा, नहीं करेंगे अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं की जासूसी

  • अमेरिका का वादा, नहीं करेंगे अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं की जासूसी
You Are HereInternational
Thursday, October 31, 2013-7:59 AM

 न्यूयार्क: संयुक्त राष्ट्र संघ ने कहा है कि उसके वीडियो कांफ्रें सिंग प्रणाली तक अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी एनएसए की पहुंच का खुलासा होने के बाद अमेरिका ने अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं की जासूसी नहीं करने का वादा किया है। जर्मनी की समाचार पत्रिका डेर स्पीगेल में अगस्त माह में इस आशय की रिपोर्ट प्रकाशित होने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने अमेरिकी अधिकारियों से बातचीत की थी।

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता मार्टिन नेसिर्की ने पत्रकारों से कहा अमेरिकी अधिकारियों ने हमें सुनिश्चित किया है कि वह संयुक्त राष्ट्र की संचार प्रणाली की जासूसी नहीं करता और आगे भी ऐसा नहीं करेगा हालांकि उन्होंने अमेरिकी एनएसए द्वारा पहले कभी जासूसी किये जाने के सवाल पर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि अमेरिका ने न्यूयार्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय की इलेक्ट्रानिक निगरानी नहीं की है। इस वर्ष स्नोडेन द्वारा गोपनीय दस्तावेजों को लीक करने के बाद से अमेरिका की दुनिया की खुफिया निगरानी करने की वजह से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काफी आलोचना हुई थी।

अमेरिका के सहयोगी देश जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने भी अमेरिकी जासूसी का जमकर विरोध किया है। अमेरिकी जासूसी के मुद्दे पर सुश्री मर्केल के विदेश मामलों के अधिकारी और खुफिया सलाहकार अमेरिकी एनएसए के अधिकारियों से पूछताछ करने के लिए कल वाशिंगटन पहुंच गये हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You