कास्त्रो से भेंट क्यूबा यात्रा की सबसे महत्वपूर्ण बात: अंसारी

  • कास्त्रो से भेंट क्यूबा यात्रा की सबसे महत्वपूर्ण बात: अंसारी
You Are HereInternational
Friday, November 01, 2013-2:17 AM

विशेष विमान सेः क्यूबा के क्रांतिकारी नेता फिदेल कास्त्रो से भेंट के बाद उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने बताया कि वह तंदुरुस्त और स्वस्थ्य हैं। उन्होंने कास्त्रो से अपनी मुलाकात को क्यूबा यात्रा की सबसे महत्वपूर्ण बात करार दिया।

अंसारी ने कहा कि यदि कोई आपसे 65 मिनट तक बात करता है तो वह सचमुच स्वस्थ्य है। उनकी 87 वर्ष की उम्र को देखते हुए उनका स्वास्थ्य काफी अच्छा है। वह कमजोर हो गए हैं, लेकिन उनकी मानसिक शक्ति अभी भी मजबूत है। उन्होंने कहा कि मैंने आशा की थी कि बैठक 20-25 मिनट की होगी। लेकिन वह एक घंटा पांच मिनट चली।

यह दिखाता है कि कास्त्रो का स्वास्थ्य बेहतर है और दुनिया में क्या चल रहा है वह उससे वाकिफ हैं। उनके विचार आज भी वही हैं जो पांच दशक पहले थे। उपराष्ट्रपति ने बताया कि उन्हें इस बैठक के संबंध में कल सुबह ही सूचना मिली। क्यूबा के नेतत्व ने इसका बहुत बेहतर इंतजाम किया था। कास्त्रो अब सार्वजनिक जीवन से विदा ले चुके हैं। यह कोई औपचारिक कार्यक्रम नहीं था, यह सामाजिक भेंट थी।

उन्होंने कहा कि निस्संदेह क्यूबाई क्रांति के नेता रहे कास्त्रो ने उनसे बागवानी के संबंध में बातचीत की। पेरू और क्यूबा की यात्रा संपन्न करने के बाद ब्रिटेन रवाना हुए उपराष्ट्रपति ने विमान में अपने साथ मौजूद संवाददाताओं से कहा कि कास्त्रो ने हथियार जमा करने और ऐसी स्थिति में किसी भी दुर्घटना से दुनिया को होने वाले खतरे पर चिंता जताई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You