'हकीमुल्ला महसूद को मिले शहीद का दर्जा'

  • 'हकीमुल्ला महसूद को मिले शहीद का दर्जा'
You Are HereInternational
Monday, November 04, 2013-2:09 PM

मानसेहरा: पाकिस्तान के खैबर पखतूनख्वा में आतंकवादी संगठन जमात-ए-इस्लामी ने अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गए तालिबान प्रमुख हकीमुल्ला महसूद तथा उसके साथियों को शहीद का दर्जा देने और अमेरिका से संबंध तोडऩे की मांग की है। जमात-ए-इस्लामी के प्रमुख मोहम्मद इब्राहिम ने कल पत्रकारों से कहा, इस ड्रोन हमले में मारे गए सभी सदस्य पाकिस्तान में शांति वार्ता को आगे बढ़ाने में मदद कर रहे थे, लेकिन उन्हें अंजाम तक नहीं पहुंचने दिया गया।

अमेरिका पाकिस्तान के हित जाने बिना अपनी ओर से रणनीति बनाता जा रहा हैं तथा इस प्रकार के ड्रोन हमले पाकिस्तान तथा अमेरिकी सरकार के बीच खलल डालते हैं। उन्होंने कहा कि खैबर पख्तूनख्वा सरकार को वह ड्रोन हमले रोकने के लिए भरपूर सहयोग देंगे। उन्होंने कहा की जमात-ए-इस्लामी किसी पश्चिमी देश का साथ नहीं चाहती। वह परस्पर सहयोग तथा समानता के आधार पर ऐसे मृतकों के साथ संबंध स्थापित करना चाहता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के शासकों को अपनी नीतियों में स्पष्टता लानी होगी, जिससे पाकिस्तान में अमेरिका का वर्चस्व समाप्त किया जा सके।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You