सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू करेगी 'नाटो'

  • सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू करेगी 'नाटो'
You Are HereInternational
Thursday, November 07, 2013-11:53 AM

अदाजी: अमेरिका और पश्चिम देशों के सैन्य संगठन, उत्तर अटलांटिक सैन्य संगठन 'नाटो' इस सप्ताह पिछले सात वर्ष के दौरान सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू करेगी, जिसमें छह हजार सैनिक हिस्सा लेगें। नाटो की जानकारी के अनुसार इस सैन्य अभ्यास में सदस्यों के अलावा गैर सदस्य देशों स्वीडन, फिनलैंड और यूक्रेन के सैनिक भी शामिल होंगे। नाटो का कहना है कि इस सैन्य अभ्यास का रूस से कुछ लेना देना नहीं है, लेकिन रूसी अधिकारियों का मानना है कि रूस की सीमा के नजदीक सैन्य अभ्यास का तात्पर्य रूस पर दबाव बनाना है।

सैन्य अभ्यास के लिए कल्पना की गई है बोथनिया आॢथक रूप से तबाह होने के बाद ऊर्जा संसाधनों पर कब्जा करने के लिए एस्तोनिया में घुस गया है। रूस का कहना है कि शीत युद्ध की समाप्ति के बाद नाटो के सैनिक पहली बार रूसी सीमा के नजदीक सैन्य अभ्यास कर रहे हैं और इसका मकसद रूस को ताकत दिखाना है। नाटो का सैन्य अभ्यास को रूस और बेलारूस के सितंबर में हुए विवाद के संदर्भ में देखा जा रहा है। हालांकि बेलारूस का नाटो से कोई संबंध नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You