ज़हर देकर अराफात की हत्या करने से इज़रायल का इनकार

  • ज़हर देकर अराफात की हत्या करने से इज़रायल का इनकार
You Are HereInternational
Friday, November 08, 2013-12:51 AM

येरूशलमः इजरायल ने कहा है कि फिलिस्तीन लिबरेशन आर्गेनाइजेशन (पीएलओ) के पूर्व प्रमुख यासर अराफात की जहर देकर हत्या करने की बात बढा चढाकर कही जा रही है और अगर यह सच भी है तो उनकी हत्या इजरायल ने नहीं बल्कि उन लोगों ने की होगी जो अपना हित साधना चाहते थे।

समाचार चैनल .अल जजीरा. ने गत मंगलवार को फिलिस्तीनी नेता की हड्डियों के नमूने की जांच रिपोर्ट प्रसारित की थी। स्विट्जरलैंड स्थित लासेन यूनिवर्सिटी की फोरेंसिक जांच मे यह स्पष्ट हुआ है कि 2004 में श्री अराफात की मौत रेडियोधर्मी पदार्थ पोलोनियम के कारण हुई थी। यूनिवर्सिटी के विकिरण विभाग ने गत नवंबर में पश्चिमी तट के शहर रामल्लाह स्थित श्री अराफात की कब्र खोदकर उनके शव के कुछ नमूने एकत्र किये थे। इन नमूनों की जांच के बाद जारी रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया।

इजरायल ने कहा कि श्री अराफात की मौत के पीछे उसका कोई हाथ नहीं क्योंकि उन्हें शारीरिक रूप से क्षति पहुंचाने की उसकी कोई योजना ही नहीं थी। तत्कालीन इजरायली विदेश मंत्री और वर्तमान ऊर्जा मंत्री सिल्वान शालवोम ने इजरायल रेडियो पर कहा, मेरी राय में श्री अराफात की मौत को बहुत बढा चढाकर पेश किया जा रहा है। लेकिन अगर उनकी मौत जहर देने से ही हुई है तब भी इसमें इजरायल का कोई हाथ नहीं है। उन्होंने कहा, संभवतः यह किसी अंदर वाले का काम है जो ऐसा करना चाहता था या इसमें उसका कोई निहित स्वार्थ था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You