बॉस भी देखता है पॉर्न साइट, तभी होता है......

  • बॉस भी देखता है पॉर्न साइट, तभी होता है......
You Are HereInternational
Thursday, November 14, 2013-4:52 PM

वॉशिगटन: दफ्तर में जब भी आपके कम्‍प्‍यूर या लैपटॉप पर वायरस आता है तो अकसर कोई गलत लिंक क्लिक करने का या कोई पॉर्न साइट देखने का आरोप लगा दिया जाता है, लेकिन अब खुलासा हुआ है कि इस मामले में बॉस भी कुछ कम नहीं है। आपको यह बता दें कि  पॉर्न साइट ज्‍यादा देखने से डिवाइस पर वायरस का खतरा बढ़ जाता है।

अक्सर कर्मचारियों पर आरोप लगता है कि वह इंटरनेट पर मौजूद ऐसा-वैसा लिंक कर देते हैं, जिससे दफ्तर की सुरक्षा में सेंध लग जाती है, लेकिन अब एक अध्‍ययन से इस बात का खुलासा हुआ है कि सुरक्षा को नुकसान पहुंचाने में कंपनी के बॉस भी पीछे नहीं हैं। थ्रेटट्रैक सिक्‍यूरिटी की रिसर्च से खुलासा हुआ है कि 40 फीसदी सिक्‍यूरिटी प्रोफेशनल्‍स ने पाया कि उनके कंपनी के सीनियर बॉस के डिवाइस पर वायरस का हमला इसलिए हुआ, क्‍योंकि उन पर पॉर्न वेबसाइट देखी गई थी।

दूसरी तरफ 60 फीसदी सिक्‍यूरिटी प्रोफेशनल्‍स ने कहा कि उन्‍होंने अपने कंपनी के सीनियर अफसरों के डिवाइस से उस वक्‍त वायरस हटाया है जब वह किसी गलत लिंक पर क्लिक कर देते हैं या उन्‍हें किसी फिशिंग मेल (ऐसी ईमेल्‍स का मकसद पासवर्ड जैसी पसर्नल जानकारी हासिल कर पैसे चुराना होता है, साइबर क्रिमिनल इनका इस्‍तेमाल करते हैं) से धोखा मिलता है।

यही नहीं, 45 फीसदी का कहना है कि उन्‍हें सीनियर अफसर के डिवाइस पर तब भी वायरस मिला, जब उन्‍होंने अपने घर के किसी सदस्‍य को उसका इस्‍तेमाल करने दिया। एक तिहाई सिक्‍यूरिटी प्रोफेशनल्‍स ने कहा कि उनकी कंपनी के अफसरों के मोबाइल पर इसलिए वायरस था क्‍योंकि उन्‍होंने खराब एप्‍प डाउनलोड की थी। आपको बता दें कि इस सर्वे में अमेरिका की बड़ी बिजनेस कंपनियों में काम करने वाले 200 सिक्‍यूरिटी प्रोफेशनल्‍स को शामिल किया गया था।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You