नेपाल में किसी भी पार्टी को बहुमत मिलने की आशा नहीं

  • नेपाल में किसी भी पार्टी को बहुमत मिलने की आशा नहीं
You Are HereInternational
Sunday, November 17, 2013-4:57 PM

काठमांडू: नेपाल के मतदाता मंगलवार को एक सौ से अधिक राजनीतिक दलों में से किसी एक का चुनाव करना होगा, जो देश की जटिल समस्याओं को समाधान निकाल सके। गरीबी, ईंधन की कमी, भ्रष्टाचार और संविधान का न होना ऐसी समस्याएं हैं, जो गहराई से जड़ जमा चुकी हैं और दिनों-दिन देश की परेशानियां बढ़ा रही है।

स्थानीय सब्जी विक्रेता पेमा गुरूंग ने कहा कि उन्हीं पुराने चेहरों को वोट देने का क्या फायदा जिन्होंने देश के लिए कुछ नहीं किया और आपस में लड़ते रहे हैं। इस चुनाव का मक्सद 601 सदस्यीय संविधान सभा का चुनाव करना है, जो देश का शासन चलाने के लिए संविधान तैयार करेगी। इससे पूर्व की संविधान सभा को 2008 में संविधान तैयार करने का कार्य सौंपा गया था, लेकिन असेम्बली के सदस्य आपस में ही लड़ते रहे। नतीजा यह है कि देश में सात साल से संविधान नहीं है, जिससे देश में विकास और अन्य परियोजनाएं ठप पड़ी हुई है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You