मोटापे ने खड़ी की मुश्किलें, नहीं मिली प्‍लेन और ट्रेन में जगह

  • मोटापे ने खड़ी की मुश्किलें, नहीं मिली प्‍लेन और ट्रेन में जगह
You Are HereInternational
Friday, November 22, 2013-10:45 AM

पेरिस: फ्रांस के एक युवक को अपने मोटापे के इलाज के लिए अमेरिका जाना भारी पड़ गया, क्योंकि वह जिस मोटापे को कम करने के लिए वहां गया था उसी बीमारी ने उसका रास्ता रोक दिया। केविन नाम का यह शख्स लगभग दो सप्ताह तक लंदन में फंसा रहा। केविन शेनिया का वजन 500 पाउंड यानी लगभग 230 किलो है और यही वजन ही उसके लिए मुसीबत बन गया है।

दरअसल, साल 2012 में मोटापे का इलाज कराने के लिए केविन अमेरिका आया था, लेकिन उसकी वापसी मुश्किल हो गई. आपको बता दें कि केविन के मोटापे का कारण खानपान की बिगड़ी आदतें नहीं बल्कि हॉर्मोन के असंतुलन से जुड़ी एक बीमारी है। पिछले महीने केविन को इलाज के बाद न्‍यूयॉर्क से ब्रिटिश एयरलाइंस के द्वारा लंदन वापिस भेजना था, लेकिन एयरलाइंस ने उसे प्‍लेन में जगह देने से इनकार कर दिया।

केविन के घरवालों के एक क्रूज कंपनी से पूछने पर उसने भी मना कर दिया। तभी वर्जिन अटलांटिक एयरलाइंस ने उसे लंदन तक पहुंचाने की हामी भर दी। यहां से  ट्रेन में सवार होकर अपने घर जाना था, लेकिन ट्रेन के मैनेजमेंट ने सुरक्षा कारणों का कारण बताते हुए उसका टिकट बुक करने से मना कर दिया। आखिर केविन को एक एम्बुलेंस और फिर बड़े से पानी के जहाज से ब्रिटिश चैनल के रास्ते भेजा गया और बुधवार को वह अपने घर फ्रांस पहुंच गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You