भारतीय मूल के उद्योगपति को दक्षिण एशियाई पुरस्कार

  • भारतीय मूल के उद्योगपति को दक्षिण एशियाई पुरस्कार
You Are HereInternational
Friday, November 22, 2013-4:59 PM

सिंगापुर: सिंगापुर के राष्ट्रपति टोनी टैन केंग याम ने भारतीय मूल के उद्योगपति मुरली केवलराम चनराई को दक्षिण एशियाई प्रवासी भारतीय समुदाय का उत्कृष्ट सदस्य पुरस्कार प्रदान किया है। कल रात प्रदान किया गया यह पुरस्कार अपने तरह का पहला पुरस्कार है, जिसे दक्षिण एशियाई प्रवासी भारतीय समुदाय सम्मेलन 2013 के दौरान दिया गया।

यह पुरस्कार चनराई की उल्लेखनीय करियर उपलब्धियों के साथ ही उनके द्वारा ना केवल सिंगापुर में, बल्कि दक्षिण एशिया और अफ्रीका जैसे दक्षिण एशियाई प्रवासी भारतीय समुदाय की उल्लेखनीय सेवा के लिए प्रदान किया गया। उनकी धर्मार्थ परियोजनाओं में चिकित्सकीय अनुसंधान, आदिवासियों के उत्थान के लिए की गई सहायता, भारत में जरूरतमंदों को चिकित्सकीय देखभाल तथा नाइजीरिया में जरूरतमंद छात्रों को छात्रवृत्ति और सहायता शामिल है।

91 वर्षीय चनराई ने एक उद्योगपति के रूप में काफी सफलता प्राप्त की है। उन्होंने अपने पारिवारिक व्यापार केवलराम समूह में 19 वर्ष की आयु में एक लिपिक के तौर पर शामिल हुए थे। कड़ी मेहनत से वह 1992 में उसके अध्यक्ष बन गए। दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन करने वाले साउथ एशियन स्टडीज (आईएसएएस) ने कहा, ‘‘वह उन पहले सिंगापुरियों में शामिल थे, जिन्होंने वर्ष 1992 में बाजार उदारीकरण के बाद भारत में सिंगापुर निवेशकों के मौके देखे।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You