ओबामा के लिए उलझनें पैदा कर सकता है ईरान परमाणु समझौता

  • ओबामा के लिए उलझनें पैदा कर सकता है ईरान परमाणु समझौता
You Are HereInternational
Monday, November 25, 2013-1:46 PM

लंदन: अमेरिका तथा पांच अन्य देशों द्वारा जेनेवा में ईरान के साथ किए गये परमाणु समझौते का न केवल अमेरिका के बाहर उसके दो सहयोगी देश विरोध कर रहे हैं बल्कि भीतर डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन पार्टियों के नेता भी खिलाफत कर रहे हैं। डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन पार्टियों के नेताओं ने चेतावनी दी है कि वह ओबामा की विदेश नीति का विरोध करेंगे और ईरान के विरूद्ध नया दंडात्मक कानून पास करेंगे।

उनका कहना है कि जेनेवा में जो अंतरिम समझौता किया गया है उसमें ईरान से बहुत कम हासिल किया गया और उसके बदले बहुत अधिक रियात दे दी गई। अमेरिका की दोनों पार्टियों के नेताओं इस रुख को देखते हुए ऐसा लगता है कि दिसंबर में अमेरिकी सीनेट में ईरान के विरूद्ध अतिरिक्त प्रतिबंध लगाने का कानून लाए जाने पर उसे पास करने में दोनों पार्टियां हाथ मिला लेंगी। अगर सीनेट में दोनों पाॢटयां ऐसा करती है तो अमेरिका द्वारा ईरान के साथ किया गया परमाणु समझौता निरस्त हो सकता है। इससे ओबामा के लिए उलझनें पैदा हो सकती हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You