पाकिस्तानी कार्यकर्ताओं ने अमेरिकी जासूस पर लगाया हत्या का आरोप

  • पाकिस्तानी कार्यकर्ताओं ने अमेरिकी जासूस पर लगाया हत्या का आरोप
You Are HereInternational
Thursday, November 28, 2013-1:32 PM

इस्लामाबाद: घातक ड्रोन हमलों पर बढ़ते आक्रोश के बीच पाकिस्तान की एक राजनीतिक पार्टी ने देश में मौजूद अमेरिका के एक शीर्ष जासूस के नाम का खुलासा किया है। पार्टी ने इस अमेरिकी जासूस पर हत्या का मुकदमा चलाए जाने की मांग की है। यह दोनों देशों के बीच पहले से खराब चल रहे संबंधों को एक और आघात है।

गौरतलब है कि हाल के दिनों में हुए दो अमेरिकी मिसाइल हमलों में मरने वालों में एक पाकिस्तानी तालिबान का नेता भी शामिल था, जिसे सरकार शांति वार्ता में बुलाने को तैयार थी। गुप्त तरीके से हुए हमलों के कारण वर्षों से लोगों के बीच पनप रहे रोष के बाद वाशिंगटन और इस्लामाबाद के बीच तनाव में बढ़ोतरी हुई है। सीआईए के शीर्ष अधिकारी के नाम के खुलासे से निश्चित रूप से दोनों देशों के बीच कूटनीतिक रिश्ते कमजोर होंगे।
 
हाल के वर्षों में यह दूसरी बार है जब पाकिस्तान ने इस्लामिक आतंकवादियों पर हो रहे ड्रोन हमलों का विरोध किया है और देश में सीआईए के शीर्ष जासूस के मौजूदगी का खुलासा करने का दावा किया है। पाकिस्तान पुलिस को लिखे एक पत्र में तहरीक-ए-इंसाफ राजनीतिक पार्टी के सूचना सचिव शीरीन मजारी ने कहा है कि इस्लामाबाद में सीआईए के प्रमुख और सीआईए निदेशक जॉन ब्रेनन के खिलाफ 21 नवंबर के ड्रोन हमले के संबंध में ‘‘पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेडऩे’’ और हत्या के लिए मुकदमा चलाया जाना चाहिए।



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You