चीन ने नए हवाई रक्षा क्षेत्र में भेजे लड़ाकू विमान

  • चीन ने नए हवाई रक्षा क्षेत्र में भेजे लड़ाकू विमान
You Are HereInternational
Friday, November 29, 2013-3:27 PM

बीजिंग: चीन ने पूर्वी चीन सागर के ऊपर घोषित नए हवाई रक्षा क्षेत्र के लिए लड़ाकू विमान रवाना किए हैं। चीन ने यह कदम ‘‘रक्षात्मक उपाय’’ के तौर पर उठाया है क्योंकि अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया ने चीन द्वारा एक-तरफा तौर पर घोषित इस नए हवाई रक्षा क्षेत्र का उल्लंघन करते हुए उसके ऊपर से सैन्य विमान भेजे थे।

चीन की वायुसेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि चीन के कई लड़ाकू विमानों और पीपुल्स लिबरेशन आर्मी वायुसेना के पूर्व चेतावनी विमान ने गत गुरूवार को पूर्वी चीन सागर हवाई रक्षा पहचान क्षेत्र (एडीआईजेड) के उपर सामान्य हवाई गश्त की। कर्नल शेन जिन्के ने इस कदम को ‘‘एक रक्षात्मक उपाय तथा अंतरराष्ट्रीय सामान्य अभ्यास बताया।’’

संवाद समिति शिन्हुआ ने प्रवक्ता के हवाले से कहा कि चीन की वायुसेना हाई अलर्ट पर रहेगी और देश के हवाई क्षेत्र की सुरक्षा को उत्पन्न खतरों से निपटने के लिए कदम उठाएगी। उसी दिन पीएलए वायुसेना ने क्षेत्र में अपनी पहली हवाई गश्त की। चीन ने विवादास्पद द्वीप क्षेत्र के ऊपर अपना एक नया हवाई रक्षा क्षेत्र घोषित कर दिया है जिसे चीन दियाओयू और जापान द्वारा सेनकाकुस द्वीप कहा जाता है। गत वर्ष तक इस द्वीप श्रृंखला का प्रशासन जापान के पास था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You