अमेरिकी प्रतिबंध के कारण ईरान के साथ परमाणु वार्ता बाधित

  • अमेरिकी प्रतिबंध के कारण ईरान के साथ परमाणु वार्ता बाधित
You Are HereInternational
Saturday, December 14, 2013-2:47 AM

संयुक्त राष्ट्रः अमेरिका के नए प्रतिबंधों पर ईरान ने गहरी नाराजगी जताई है जिसे देखते हुए राजनयिकों को लगता है कि इससे तेहरान के साथ जारी परमाणु वार्ता बाधित हो सकती है। विश्व की छह शक्तियों अमेरिका, जर्मनी, चीन, रूस, ब्रिटेन तथा फ्रांस तथा ईरान के बीच तेहरान के परमाणु कार्यक्रम पिछले चार दिन से जेनेवा में नौ से 12 दिसंबर तक वार्ता चली जिसमें परमाणु समझौते के करार को क्रियान्वयित करने पर चर्चा हुई।

दोनों पक्ष पिछले माह बातचीत के लिए तैयार हुए थे। परमाणु वार्ता के एक दिन बाद आज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में प्रतिबंध समिति के आस्ट्रेलियाई अध्यक्ष गैरी क्विनलान ने संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों से कहा है कि वे ईरान के खिलाफ प्रतिबंध जारी रखें और किसी तरह की ढिलाई नहीं बरते। उन्होंने कहा कि 24 नवंबर को ईरान और छह महाशक्तियों के बीच एक समझौता हुआ था जिसमें ईरान को परमाणु कार्यक्रम में कटौती के बदले उसे प्रतिबंधों में कुछ राहत दी गई थी।

केवल सुरक्षा परिषद ही उसमें संशोधन या उसे खत्म कर सकती है इसलिए सदस्य देशों का दायित्व है कि प्रतिबंधों को लागू करते रहें। सुरक्षा परिषद ने ईरान पर परमाणु कार्यक्रम जारी रखने के कारण चार दौर में प्रतिबंध लगाए थे। पश्चिमी देशों और उनके सहयोगियों को आशंका है कि ईरान परमाणु हथियार बनाने की दिशा में आगे बढ रहा है जबकि ईरान ने इसका खंडन किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You