‘खोब्रागड़े की गिरफ्तारी से केरी थे अवगत’

  • ‘खोब्रागड़े की गिरफ्तारी से केरी थे अवगत’
You Are HereAmerica
Thursday, December 19, 2013-11:40 AM

वाशिंगटन: न्यूयार्क में भारतीय राजनयिक देवयानी खोब्रागड़े की गिरफ्तारी और कपड़े उतरवाकर तलाशी लिए जाने पर अफसोस जाहिर करने वाले अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी उनकी गिरफ्तारी से अवगत थे। कथित वीजा धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार 39 वर्षीय उप महावाणिज्य दूत खोब्रागड़े की शर्मनाक तरीके से कपड़े उतरवाकर तलाशी ली गई और डीएनए जांच के लिए उनकी लार का नमूना लिया गया। जेल में उन्हें नशेबाज और खतरनाक अपराधियों वाले प्रकोष्ठ में रखा गया। बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया।

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन से केरी की बातचीत के बारे में सूचित किए जाने के बाद विदेश विभाग की उप प्रवक्ता मैरी हर्फ ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘निश्चित तौर पर उन्हें (केरी को) जानकारी थी। इस मामले पर वह नजर रखे हुए हैं। जो कुछ भी हुआ, निश्चित रूप से उन्होंने उस संबंध में अफसोस जाहिर किया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे विचार से, यह इस तथ्य पर आधारित है कि हमें नहीं लगता कि भारत में कहीं भी अथवा दिल्ली में सरकार की तरफ से हमें अपने काम से रोकने के कदम उठाने चाहिए और हमारे काम पर रोक लगाई जानी चाहिए। कुछ चीजों पर बातचीत हुई है।’’

दोनों के बीच हुई बातचीत के बारे में हर्फ ने कहा, ‘‘सचमुच में यह पूरी स्थिति, ईमानदारी पर और इस पर केंद्रित रही कि कैसे हम आगे बढ़ें।
अमेरिकी सरकार में जिम्मेदारी वाले पदों के सभी अधिकारियों की तरह केरी अमेरिकी कानून लागू करने और पीड़ितों को बचाने की महत्ता को बहुत गहराई से समझते है और उम्मीद करते हैं कि अमेरिका में हर कोई कानून का पालन करेगा।’’

हर्फ ने इस संवाद को ‘सकारात्मक’ बताया।  उन्होंने कहा, ‘‘जो कुछ भी हुआ उन्होंने उस पर अफसोस जाहिर किया। उसी उम्र के दो बेटियों के पिता होने के नाते वह संवेदनशीलता को समझते हैं। निजी तौर पर क्या बातचीत हुई यह नहीं बता रही हूं। लेकिन कहने की जरूरत नहीं है कि यह एक सकारात्मक संवाद था और हम संबंधों को आगे ले जाने पर ध्यान केंद्रित किए हुए हैं।’’

केरी के अलावा राजनीतिक मामलों के उप विदेश मंत्री विंडी शेरमन ने भारतीय राजनयिक की गिरफ्तारी के बाद के घटनाक्रम पर भारतीय विदेश सचिव सुजाता सिंह से बात की। इस संबंध में कुछ नहीं बताया गया कि केरी ने अपने भारतीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद से क्यों नहीं बातचीत की।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You