30 घंटे लगातार काम करने से कॉपीराइटर की हुई मौत

  • 30 घंटे लगातार काम करने से कॉपीराइटर की हुई मौत
You Are HereInternational
Thursday, December 19, 2013-10:21 AM

जकार्ता: इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में एक युवा कॉपीराइटर की 30 घंटों तक लगातार काम करने के दौरान मौत हो गई। 30 घंटे लगातार काम करने से वह बिल्कुल भी नहीं सोई, लेकिन उसके बाद हमेशा के लिए सो गई।

14 दिसंबर को 24 वर्षीय मिता डाइरेन को टि्वटर से एक शिकायती संदेश मिला, जिसमें 30 घंटों तक लगातार काम करने का जिक्र था। संदेश मिलने के कुछ ही समय बाद डाइरेन की तबीयत खराब हो गई और उसके अगले दिन उनकी मौत हो गई। मिता के सहकर्मियों ने मौत की वजह 30 घंटों तक लगातार काम को बताया है।

गौरतलब है कि मिता की मौत से सात महीने पहले ओगिल्वी के पीआर स्टॉफ की हॉर्ट अटैक से डेस्क पर ही मौत हो गई थी।

सहयोगियों के अनुसार, मिता एक प्रतिभाली कॉपीराइटर थी और मीठी मुस्कान वाली मिता हमेशा हमारे दिलों में रहेगी। मिता के टि्वटर अकाउंट पर कमेंट्स की बारिश हो रही है। लोग काम करने की शर्तो और घंटों की आलोचना कर रहे हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You