देवयानी की नौकरानी को मिले न्याय: मानवाधिकार समूह

  • देवयानी की नौकरानी को मिले न्याय: मानवाधिकार समूह
You Are HereInternational
Saturday, December 21, 2013-5:26 PM

न्यूयार्क: अमेरिका में घरेलू कामगारों का प्रतिनिधित्व करने वाले मानवाधिकार समूहों ने भारतीय महावाणिज्य दूतावास के बाहर प्रदर्शन करते हुए भारत की वरिष्ठ राजनयिक देवयानी खोबरागड़े की नौकरानी के लिए न्याय की मांग की है। इन संगठनों का कहना है कि राजनयिक अपने कार्यो की जवाबदेही से बचने के लिए छूट का इस्तेमाल नहीं कर सकते।

नेशनल डोमेस्टिक वर्कर्स एलायंस ने कल यहां करीब एक घंटे तक विरोध प्रदर्शन किया, जिसमें नौकरानी संगीता रिचर्ड की मदद करने वाली एजेंसी सेफ हॉरिजन, दामयान वर्कर एसोसिएशन और नेशनल गेस्टवर्कर एलायंस जैसे संगठनों ने भी हिस्सा लिया।

नेशनल डोमेस्टिक वर्कर एलायंस के योमारा बेलेज ने प्रेट्र से कहा, ‘‘हम निष्पक्ष सुनवाई और रिचर्ड को मुआवजा देने की मांग कर रहे हैं। राजनयिक छूट के संबंध में सभी घरेलू कामगारों की श्रम सुरक्षा के संबंध यह विषय यहां बड़ा मुद्दा है।’’ उन्होंने कहा कि अन्य कामगारों, घरेलू श्रमिकों की तरह इन्हें सम्मान की नजर से देखा जाना चाहिए।

गौरतलब है कि 1999 बैच की आईएफएस अधिकारी 39 वर्षीय खोबरागड़े को कथित तौर पर वीजा फर्जीवाडे के मामले में 12 दिसंबर को उस समय गिरफ्तार किया गया था, जब वह अपनी बच्ची को स्कूल छोडऩे गई थी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You