नौसैनिकों के खिलाफ निष्पक्ष सुनवाई चाहता है इटली

  • नौसैनिकों के खिलाफ निष्पक्ष सुनवाई चाहता है इटली
You Are HereInternational
Monday, December 23, 2013-2:03 AM

रोमः इटली के राष्ट्रपति जॉर्जियो नेपोलिटानो ने भारत में हत्या के आरोपों का सामना कर रहे अपने दो नौसैनिकों के पक्ष में आवाज बुलंद की है और उनके खिलाफ निष्पक्ष सुनवाई का आग्रह किया है।

समाचार एजेंसी एकेआई के अनुसार, नेपोलिटानो ने इस सप्ताह कहा है, हमारे भाइयों, इटली के नागरिक सच्चे मन से आपके करीब हैं, जो एक आश्चर्यजनक और पीड़ादायक घटना के अज्ञात परिणामों का सामना कर रहे हैं। नेपोलिटानो ने नई दिल्ली स्थित इटली के दूतावास के साथ एक वीडियो फोन वार्ता में कहा, ‘‘हम निष्पक्ष और त्वरित सुनवाई की अपेक्षा रखते हैं, भले ही भारत में आसन्न चुनाव के कारण इसमें बाधा आए।’’

इटली के दोनों आरोपी नौसैनिक इस समय जमानत पर रिहा हैं और नई दिल्ली स्थित इटली के दूतावास में रह रहे हैं और काम कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मैस्सिमिलानो लाटोरे और सेल्वाटोरे जिरोने को केरल तट से लगे समुद्र में पिछले वर्ष फरवरी में दो भारतीय मछुआरों की हत्या करने के लिए गिरफ्तार किया गया था। दोनों नौसैनिक उस समय एक तेल टैंकर पर सुरक्षा ड्यूटी पर तैनात थे और उनका कहना है कि उन्होंने मछुआरों की नौका की दिशा में सिर्फ चेतावनीस्वरूप गोलियां चलाई थीं, क्योंकि उन्हें लगा था कि वे समुद्री लुटेरे हैं।

नेपोलिटानो ने कहा, इटली की पूरी सरकार पूरी तरह आपके साथ है।’ इटली इस मामले में भारत के अधिकार क्षेत्र को चुनौती देता है। उसका कहना है कि घटना अंतर्राष्ट्रीय समुद्र क्षेत्र में घटी थी। इसके पहले इटली के प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा ने कहा था कि इटली के अधिकारी इस मामले को सुलझाने के लिए लगातार काम करेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You