जापान-अमेरिका संबंधों में गतिरोध दूर होगा

  • जापान-अमेरिका संबंधों में गतिरोध दूर होगा
You Are HereInternational
Wednesday, December 25, 2013-6:53 PM

टोक्योः जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे अमेरिकी वायुसेना के अड्डे के बारे में ओकिनावा से समझौते के करीब पहुंच गए हैं जिसे लेकर अमेरिका के साथ पिछले 20 वर्षों से गतिरोध बना हुआ है।

ओकिनावा में अधिकारियों के साथ समझौता आबे के लिए एक उपलब्धि होगी। जापानी प्रधानमंत्री ऐसे समय में सेना को और ताकतवर बनाने का वादा किया है जब प्रशांत में विवादास्पद द्वीपों को लेकर चीन के साथ तनाव के दौरान जापान-अमेरिका सुरक्षा गठबंधन की परख हो चुकी है।

श्री आबे और ओकिनावा के गवर्नर हिरोकार नाकेमा साथ बातचीत में यह सफलता मिली है। फुटेनआ अड्डे के स्थान पर अमेरिका का नया वायुसैनिक अड्डा बनाने का प्रस्ताव है। नाकेमा ने प्रधानमंत्री की इस बात के लिए सराहना की कि उन्होंने ओकिनावा के लिए भारी राशि आवंटित की है और अमेरिकी अड्डों पर पर्यावरण संबंधी नियंत्रण भी रखा जाएगा।

अमेरिका और जापान फुटेनमा अड्डा बंद करने के लिए 1996 में सहमत हुए थे लेकिन उसके स्थानापत्र को लेकर कडे विरोध का सामना करना पडा। अमेरिका ने ओकिनावा पर 1972 में कब्जा किया था। जापान और अमेरिका के बीच संबंध उस समय खराब हुए जब तत्कालीन जापानी प्रधानमंत्री युकियो हातोपामा ने ओकिनावा से अमेरिकी अड्डा हटाने के लिए अभियान चलाना जारी रखा। अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि नई सैनिक सुविधा ओकिनावा द्वीप पर ही मिलनी चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You