अब कंबोडिया में भी उठी सरकार विरोधी लहर, सड़क पर उतरे हजारों लोग

  • अब कंबोडिया में भी उठी सरकार विरोधी लहर, सड़क पर उतरे हजारों लोग
You Are HereInternational
Monday, December 30, 2013-12:06 AM

नोम पेन्हः थाईलैंड में सरकार विरोधी धरना प्रदर्शनों के दौर अभी थमा भी नहीं और पडोसी देश कंबोडिया भी इसकी गिरफ्त में आ गया। कंबोडिया में आज सडकों पर उतरे हजारों प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री हुन सेन के इस्तीफे की मांग की है।

कंबोडया के विपक्षियों ने थाईलैंड में जारी प्रदर्शनों से सीख लेते हुए 28 वर्षो से सत्ता पर काबिज श्री सेन के खिलाफ परचम लहरा दिया है। विपक्षी समूहों के संगठन कंबोडिया नेशनल रेस्क्यू पार्टी ने आज कहा कि श्री सेन को थाईलैंड की प्रधानमंत्री यिंगलक शिनावात्रा से सबक लेनी चाहिए जिन्होंने संसद भंग करके चुनाव की घोषणा कर दी है।

हडताल पर गए कपडा कारखाने के कर्मचारियों ने भी विपक्ष का समर्थन किया है और श्री सेन के इस्तीफे और चुनाव कराने की मांग की है। कपडा कारखाने के मजदूर गत 24 दिसम्बर को प्रस्तावित न्यूनतम मजदूरी दर को 95 डालर से बढाकर 160 डालर करने की मांग को लेकर हडताल पर गए हैं।

रस्क्यू पार्टी के नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री सैम रेंसी ने नोम पेन्ह पार्क में आज आयोजित रैली को संबोधित करते हुये कहा, हम श्री सेन से कुर्सी छोडने की मांग करते है। कुछ प्रदर्शनकारी गत 15 दिसम्बर से पार्क में घेराव डालकर बैठे हैं। श्री सेन की कंबोडियन पीपुल्स पार्टी ने गत जुलाई में हुए चुनाव में बेहतर कम अंतर से जीत हासिल करके अपनी सरकार बनायी थी। विपक्षियों ने चुनाव में अनियमितता का आरोप लगाया है लेकिन श्री सेन ने इन आरोपों का खंडन किया हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You