अंटार्कटिका में बर्फ में फंसे जहाज के सुरक्षित निकलने की उम्मीद जगी

  • अंटार्कटिका में बर्फ में फंसे जहाज के सुरक्षित निकलने की उम्मीद जगी
You Are HereInternational
Monday, December 30, 2013-2:07 AM

पर्थः अंटार्कटिका में बर्फ में फंसे रूसी जहाज को निकालने के लिये आस्ट्रेलिया का बर्फ तोडने वाला जहाज आज मध्य रात्रि तक वहां पहुंच जाएगा। रूस का यह जहाज 28 नवंबर को न्यूजीलैंड से रवाना हुआ था। यह आस्ट्रेलियाई अन्वेषक डगलस मावसन के  नेतृत्व में हुई अंटार्कटिक यात्रा के 100 वर्ष पूरे होने के मौके पर यात्रा पर निकला है।

जहाज पर वैज्ञानिकों और पर्यटकों समेत कुल 74 लोग सवार हैं तथा सभी लोग अच्छी स्थिति में हैं और किसी खतरे में नहीं है। यह जहाज गत 24 दिसंबर से फ्रेंच अंटार्कटिक स्टेशन ड्युमोंट डीएरविले के 1585 समुद्री मील पूर्व और तस्मानिया के होबार्ट से 1500 समुद्री मील दक्षिण में बर्फ में फंसा हुआ है। इसमें रूस और आस्ट्रेलिया के कई लोग सवार हैं। चालक दल का एक सदस्य भी रूस का नागरिक है।

जहाज को सुरक्षित निकालने के लिए चीन का बर्फ तोडने वाला जहाज भी वहां पहुंचा था लेकिन वह इसमें सफल नहीं हो सका। आस्ट्रेलिया समुद्री सुरक्षा प्राधिकरण की अधिकारी लीसा मार्टिन ने बताया कि जहाज के आसपास जमी बर्फ को तोडने के लिए आज काफी अच्छा मौसम है। बर्फ थोडा नरम हो गयी है और कुछ दरारें भी नजर आई हैं। उन्होंने बताया कि आस्ट्रेलियाई जहाज मध्यरात्रि तक वहां पहुंच जाएगा जिसके बाद राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया जाएगा।    


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You