पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में 'क्रिस्टीन' का कहर

  • पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में 'क्रिस्टीन' का कहर
You Are HereInternational
Tuesday, December 31, 2013-2:04 PM

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया के संसाधन संपन्न पश्चिमी तट पर आज एक शक्तिशाली चक्रवात ने भारी तबाही मचाई। चक्रवात के बाद भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण पेड़ उखड़ गए ओैर इमारतों की छतें टूट गईं। इसकी वजह से लौह अयस्क खनन का कार्य रोक दिया गया।

ऊष्णकटिबंधीय चक्रवात क्रिस्टीन के कारण कल मध्यरात्रि के समय भूस्खलन हुए। 170 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली हवा और भारी बारिश के कारण कई शहरों की बिजली गुल रही। इस भूस्खलन के कारण कई पेड़ गिर गए और मकान क्षतिग्रस्त हो गए।

इसके बाद क्रिस्टीन मंद पड़ गया और हवा की गति 110-130 किलोमीटर प्रति घंटा तक आ गई। लेकिन तूफान के रास्ते में आने वाले शहरों के लिए रेड अलर्ट जारी रहा। रेड अलर्ट के जरिए लोगों को उनके घरों में ही रहने के लिए कहा गया।

अग्निशमन और आपात सेवाओं के विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘‘निवासियों का यह समझना जरूरी है कि बेहद खतरनाक स्थितियां अभी भी जारी हैं। उत्तरपश्चिम में अभी भी रेड अलर्ट रखा गया है। यह तब तक बना रहेगा, जब तक सब कुछ सामान्य नहीं हो जाता।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You