फूफा की फांसी को लेकर किम जोंग ने तोड़ी चुपी

  • फूफा की फांसी को लेकर किम जोंग ने तोड़ी चुपी
You Are HereInternational News
Wednesday, January 01, 2014-7:31 AM

प्योंगयांग: उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने अपने फूफा चांग सोंग थाएक को फांसी पर चढ़ाए जाने के बाद पहली बार अपनी चुपी तोड़ी। किम ने सार्वजनिक प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इसे 'गुटबाजी के कूड़े' का ख़ात्मा क़रार दिया है।

गत 13 दिसंबर को उत्तर कोरिया ने घोषणा की थी कि चांग सोंग थाएक को देशद्रोह के ज़ुर्म में फांसी पर लटका दिया गया है। इस क़दम की दुनियाभर में आलोचना हुई थी और इससे देश में अस्थिरता की आशंकाएं उपजी थीं।

सरकारी टेलीविज़न पर प्रसारित नए साल के संदेश में किम जोंग उनसे कहा कि सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी में 'गुटबाजी के कूड़े' के ख़ात्मे से देश की एकता 100 गुना मजबूत हुई है। उन्होंने चांग पर पार्टी के भीतर अपना अलग गुट बनाने का आरोप लगाते हुए कहा, "हमारी पार्टी की समय पर की गई उचित कार्रवाई से पार्टी विरोधी तत्वों का खात्मा हो गया है और इससे पार्टी की एकता मजबूत हुई है।"

देश के दिवंगत नेता किम जोंग इल की बहन से चांग की शादी हुई थी। कहा जाता है कि 2011 में किम जोंग ने द्वार अपने पिता की गद्दी संभालने पर चांग ने उनका पूरा साथ दिया था। चांग को देश का दूसरा सबसे शक्तिशाली नेता माना जाता था, लेकिन उन्हें पार्टी की एक विशेष बैठक के दौरान सशस्त्र गार्डों ने जबर्दस्ती हटाया और फिर उन्हें सभी पदों से वंचित कर दिया गया।

सरकारी समाचार एजेंसी केएनसीए ने बाद में बताया कि चांग ने सैन्य मुकदमे के दौरान यह बात स्वीकार की कि उन्होंने देश की सत्ता को उखाड़ने का प्रयास किया था। फिर तुरंत ही चांग को फांसी दे दी गई। विश्लेषकों के अनुसार, चांग चीन के आर्थिक उदारवाद के प्रशंसक थे। उनको रास्ते से हटाए जाने का एक कारण यह भी हो सकता है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You