भारत-पाकिस्तान ने परमाणु ठिकानों, कैदियों की सूची का आदान-प्रदान किया

  • भारत-पाकिस्तान ने परमाणु ठिकानों, कैदियों की सूची का आदान-प्रदान किया
You Are HereNational
Wednesday, January 01, 2014-3:41 PM

नई दिल्लीः भारत और पाकिस्तान ने बुधवार को अपने परमाणु ठिकानों और दोनों देशों में  एक-दूसरे देशों के नागरिकों की सूची का आदान-प्रदान किया। दोनों देशों के बीच परमाणु ठिकानों की सूची का आदान-प्रदान प्रत्येक वर्ष एक जनवरी को किया जाता है। यह आदान-प्रदान परमाणु ठिकानों के खिलाफ हमला निवारक समझौते के हिस्से के रूप में किया जाता है।

यह समझौता 31 दिसंबर, 1988 को हुआ था और 27 जनवरी, 1991 को प्रभावी हुआ था। दोनों देशों के बीच इस तरह की सूची का यह 23वां आदान-प्रदान है। पहला आदान-प्रदान पहली जनवरी, 1992 को हुआ था। दोनों पक्षों ने देशों में कैद एक-दूसरे देशों के नागरिकों की सूची का भी आदान-प्रदान किया। यह आदान-प्रदान दोनों देशों के बीच हुए वाणिज्यदूत संपर्क समझौते के तहत हुआ।

यह समझौता 21 मई, 2008 को हुआ था और सूची का अदान-प्रदान प्रत्येक वर्ष पहली जनवरी और पहली जुलाई को होता है। पाकिस्तान ने अपने परमाणु ठिकानों की सूची आधिकारिक तौर पर इस्लामाबाद में विदेश विभाग कार्यालय में भारतीय उच्चायोग के एक प्रतिनिधि को सौंपी। पाकिस्तानी उच्चायोग के एक बयान में कहा गया है कि भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी नई दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग को अपनी सूची सौंपी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You