हिंसा रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई के आदेश: शेख हसीना

  • हिंसा रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई के आदेश: शेख हसीना
You Are HereInternational
Monday, January 06, 2014-6:23 PM

ढाका: बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने मतदान के बाद जारी हिंसा को रोकने और देशवासियों के जीवन को सुरक्षित करने के लिए प्रवर्तन एजेंसियों, सेना और प्रशासन के अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए है। सुश्री हसीना ने अपने सरकारी आवास में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि किसी भी कीमत पर लोगों की जाने और संपत्तियों को बचाया जाए और शांति का माहौल बनाया जाए।

उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिए कि वे हर हाल में मतदान के बाद हो रही हिंसा को रोके। जब उनसे कल हुए मतदान का प्रतिशत कम होने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा मैं कल पड़े मतों की संख्या से संतुष्ट हूं। देश के विभिन्न हिस्सों में कल मतदान के दौरान हुई हिंसा में अर्ध सैनिक बल अंसार के एक जवान सहित 20 से अधिक लोग मारे गए है तथा 300 से अधिक घायल हुए। लगभग 400 मतदान केंद्रों पर मतदान बाधित हुआ था। देश भर में 41 मतदान केन्द्रों पर एक भी मत नहीं पड़ा। देश में पिछले 25 दिन से विपक्ष का प्रदर्शन जारी है।

लगातार बंद और हड़ताल के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने रेल, सड़क और जलमार्ग बंद कर ढाका को पूरे देश से लगभग काट दिया है। इस दौरान हुई हिंसा में सौ से ज्यादा लोग मारे गए। विपक्ष ने कहा है कि आने वाले दिनों में वह आंदोलन को नया स्वरूप देगी। लेकिन इसके बारे में इस समय ज्यादा जानकारी देने से उसने इनकार कर दिया है। माना जा रहा है कि वर्तमान संसद का कार्यकाल 24 जनवरी को समाप्त होने के बाद वह असहयोग आंदोलन का रास्ता अपना सकती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You