देवयानी को जी-वीजा देने पर कोई फैसला नहीं

  • देवयानी को जी-वीजा देने पर कोई फैसला नहीं
You Are HereInternational
Thursday, January 09, 2014-11:23 AM

वाशिंगटन: भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े को वीजा आवेदन जमा कराए 20 दिन से अधिक समय बीत चुका है, लेकिन अमेरिका अभी भी उसकी समीक्षा कर रहा है। देवयानी को जी-वीजा मिल जाने पर उन्हें पूर्ण राजनयिक छूट मिल जाएगी। जी-वीजा उन्हें भविष्य में गिरफ्तारी से बचाएगा। न्यूयॉर्क में अगले सप्ताह सुनवाई की तिथि नजदीक आने के साथ ही भारतीय अधिकारियों में व्यग्रता बढ़ रही है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता जेन प्साकी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें कागजात मिल गए हैं। इसकी जांच की जा रही है। मेरे पास इस संबंध में कोई अन्य जानकारी नहीं है। हम निश्चित तौर पर भारत सरकार के सम्पर्क में हैं।’’

गौरतलब है कि वीजा धोखाधड़ी के मामले में 12 दिसम्बर को न्यूयॉर्क में गिरफ्तारी के कुछ दिनों बाद भारत ने देवयानी का स्थानांतरण संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में इस उम्मीद से कर दिया था कि इससे उन्हें जरूरी जी-वीजा मिल जाएगा, जिससे कि उन्हें पूर्ण राजनयिक छूट मिल जाएगी। संयुक्त राष्ट्र ने देवयानी के कागजात तत्काल तैयार कर 20 दिसम्बर को अमेरिकी विदेश मंत्रालय में भेज दिया था।

इस प्रक्रिया में सामान्य तौर पर कुछ ही दिनों का समय लगता है, लेकिन इस मामले में तीन सप्ताह हो चुके हैं। देवयानी अब न्यूयॉर्क में भारत के स्थायी मिशन में रह रही हैं। उन्हें ढाई लाख अमेरिकी डॉलर की जमानत पर रिहा किया गया था। देवयानी का पासपोर्ट न्यूयॉर्क की एक अदालत के पास है। मामले की अगली सुनवाई 13 जनवरी को तय है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You