जान देकर बचा गया हजारो बच्चो की जान

  • जान देकर बचा गया हजारो बच्चो की जान
You Are HereInternational
Friday, January 10, 2014-2:01 PM

नई दिल्ली: पाकिस्तान का एतजाज हसन अपनी जान देकर सैकड़ो बच्चो को जिंदगी दे गया। एतजाज हसन की दिम्मत और बहादुरी की चर्चा चारों तरफ है। नौवीं कक्षा में पढऩे वाला हसन ने अपनी जान देकर बहादुरी की एक मिसाल कायम की हैं और उसे श्रद्धांजलि देने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। एतजाज की बहादुरी पर उसके पिता ने कहा कि वह अपनी मां को रुला कर सैकड़ों माताओं रोने से बचा गया।

आपको बतां दे कि पाकिस्तान के सोशल मीडिया पर एतजाज का दर्जा एक हीरो की तरह हो गया है। इतना ही नहीं एतजाज को देश के सबसे बड़े सैन्य सम्मान निशान-ए-हैदर दिए जाने की भी मांग की जा रही है। एतजाज हसन के परिवार ने सरकार से एतजाज को सम्मानित करने की मांग की है। जानकारी के मुताबिक,  सोमवार की सुबह एतजाज स्कूल जा रहा था कि रास्ते में स्कूल की वर्दी पहने हुए एक युवक ने उनसे सरकारी हाई स्कूल का पता पूछा।

इसके बाद एतजाज को लगा कि शायद कार में यह कोई आत्मघाती हमलावर है। उसने अपने दोस्तो से कहा कि आप पीछे हट जाएं और मैं इसे नियंत्रित करने की कोशिश करता हूं, वरना यह स्कूल के अंदर जाकर तबाही मचा देगा। उस समय स्कूल में करीब एक हजार के करीब बच्चे मौजूद थे। लेकिन एतज़ाज़ ने उसे रोक लिया और ख़ु्द हमलावार का निशाना बन गए। एतजाज पिता अबू धाबी में मजदूरी करते हैं और उनका एतजाज के अलावा एक बेटा और दो बेटियां हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You