राजनयिक विवाद: भारत खोबरागड़े के साथ मजबूती से खड़ा

  • राजनयिक विवाद: भारत खोबरागड़े के साथ मजबूती से खड़ा
You Are HereInternational
Saturday, January 11, 2014-5:07 PM

वाशिंगटन: भारत ने अपनी राजनयिक देवयानी खोबरागड़े के खिलाफ खराब बर्ताव का कमजोर आपराधिक आरोप लगाने की अमेरिकी पेशकश ठुकरा दी और जोर देकर कहा कि सभी आपराधिक आरोप वापस लिए जाने चाहिए। सूत्रों ने बताया कि इस कारण से कई दिनों तक गतिरोध की स्थिति बनी रही। दोनों देशों के अधिकारियों और वकीलों ने वाशिंगटन, न्यूयार्क और नई दिल्ली में कई बैठकें की, जिसके बाद दोनों देश गुरूवार को उठाए गए कदमों पर सहमत हुए। इसके परिणामस्वरूप खोबरागड़े स्वदेश रवाना हो गई।

सूत्रों ने बताया कि हालांकि, अमेरिका इसे आपराधिक आचरण से कम मानने को राजी नहीं था, वहीं भारतीय पक्ष इसे कभी भी आपराधिक कृत्य नहीं मान रहे थे। सूत्रों ने बताया हर तरह से कोशिश की गई। पहचान जाहिर नहीं करने की शर्तों पर सूत्रों ने बताया कि अमेरिका ने बड़े जुर्म का आरोप लगाया और हम उन आरोपों को कम करने पर सोच रहे थे, लेकिन वे अब भी जोर दे रहे हैं कि यह गलत आचरण माना जाएगा।

सूत्रों ने बताया, ‘‘और खराब आचरण अभी भी आपराधिक मामला है। हमारे विचार में एक भारतीय राजनयिक आपराधिक आरोपों का सामना करे, यह सवालों से परे है।’’  इसलिए कई बार बातचीत के बाद भारतीय और अमेरिकी वार्ताकार उस स्थिति पर पहुंचे, जहां अमेरिका बुरे आचरण पर सहमत हुआ, जो आपराधिक ही है। वहीं, भारत ने जोर देकर कहा कि वह छूट के साथ अपने राजनयिक के खिलाफ आपराधिक आरोप नहीं स्वीकार कर सकता।

सूत्रों ने कहा, ‘‘जब गतिरोध उत्पन्न हो गया, तो हमारे लिए केवल यही एक विकल्प था कि उनके लिए संयुक्त राष्ट्र के राजनयिक के तौर पर वीजा प्राप्त करने का रास्ता अपनाया जाए।’’ इस बिंदु पर भारत ने अमेरिका से देवयानी के संयुक्त राष्ट्र का परिचय पत्र स्वीकार करने को कहा, जिससे उन्हें आवश्यक राजनयिक छूट हासिल हो जाती। वास्तव में, इसके अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा था। समाधान के तौर पर 8 जनवरी की देर रात अमेरिका ने खोबरागड़े को उनका परिचय पत्र स्वीकार किए जाने का पत्र भेजा। छूट के बारे में पूरी तरह से अवगत होने के बाद 9 जनवरी की सुबह विदेश मंत्रालय ने उन्हें संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में भेज दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You