अमेरिका में राजनयिकों के घरेलू नौकरों को मिलेगी मदद

  • अमेरिका में राजनयिकों के घरेलू नौकरों को मिलेगी मदद
You Are HereInternational
Wednesday, January 15, 2014-9:56 PM

वाशिंगटनः भारतीय राजनयिक की कथित तौर पर अपनी घरेलू नौकरानी को कम वेतन देने के कारण गिरफ्तारी के मामले में भारत के साथ चले सबसे बुरे कूटनीतिक तनाव के बाद अमेरिका ने मानव तस्करी के भुक्तभोगियों को मदद करने की एक पंचवर्षीय रणनीतिक कार्ययोजना की घोषणा की है।

इस पंच वर्षीय कार्ययोजना में अमेरिका में राजनयिकों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के काम करने वाले अधिकारियों द्वारा साथ लाए गए घरेलू नौकरों की मदद करने का प्रावधान है। येाजना में कहा गया है, ‘‘घरेलू कार्य और खासकर राजनयिकों के द्वारा की गई नियुक्ति में शोषण की संभावना को समाप्त करने के लिए विदेश मंत्रालय विदेशी मिशनों के कर्मचारियों और उनके घरेलू नौकरों को अमेरिका के संघीय, प्रांतीय और स्थानीय कानूनों और राजनयिकों द्वारा नियुक्त घरेलू नौकरों के बारे में कानूनों की जानकारी देगा।’’

इसके तहत घरेलू नौकरों को उनके अधिकारों की जानकारी दी जाएगी। ‘अमेरिका में मानव तस्करी के प्रवाभितों को सेवा पर संघीय रणनीतिक कार्ययोजना 2013-17’ के जारी होने पर राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने संदेश में कहा, ‘‘मानव तस्करी हमारी साझा मानवता से किसी को वंचित किया जाना है और एक अमेरिकी के रूप में हमारे आदर्श का अपमान है।’’

उन्होंने मानव तस्करी को दास प्रथा का आधुनिक अवतार कहा। उन्होंने कहा, ‘‘मानव तस्करी के प्रभावितों के लिए हमारा संदेश है- हम आपको सुन रहे हैं। हम आपकी गरिमा पर जोर देते हैं। हम आपके इस विश्वास को मानते हैं कि यदि आपको मौका मिले तो आप अपनी काबिलियत और अपने सपनों के अनुरूप अपना भविष्य गढ़ सकते हैं।’’

व्हाइट हाउस में कार्य योजना को जारी करते हुए घरेलू नीति परिषद की निदेशक सेसीलिया मुनोज ने कहा कि यह योजना ओबामा सरकार की उस कोशिश का हिस्सा है, जिसके तहत उन्होंने प्रभावितों को अपना भविष्य बनाने में मदद करने का वादा किया है। योजना के तहत अमेरिका में मानव तस्करी के सभी प्रभावितों की पहचान की जाएगी और उन्हें भविष्य बेहतर बनाने के लिए सभी तरह की मदद दी जाएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You