ओबामा ने मित्र देशों की खुफिया निगरानी पर लगाई रोक

  • ओबामा ने मित्र देशों की खुफिया निगरानी पर लगाई रोक
You Are HereInternational
Saturday, January 18, 2014-4:22 PM

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मित्र देशों की खुफिया निगरानी पर आज रोक लगाते हुए सीमित सुधारों की श्रृंखला के तहत अमेरिकी फोन डाटा संग्रह पर लगाम कसने का निर्णय लिया।

ओबामा ने यह महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए कहा कि निजता के मुद्दे को लेकर अमेरिकी और अन्य विदेशी नागरिकों के लिए एक समान नीति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा, "अमेरिकी नागरिकों को भी आत्मविश्वास होना चाहिए कि उनके अधिकारों की रक्षा की जा रही है। हमारी खुफिया और प्रवर्तन एजेंसिंया उनके हितों के संरक्षण के लिए क्रियाशील है।"

राष्ट्रपति ने यह घोषणा की है कि राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) अमेरिकियों के फोन रिकार्ड के जरिए एकत्रित जानकारी अपने पास नहीं रखेगी। उन्होंने कहा, "मै मित्र देशों और उनके नेताओं से कहना चाहूंगा कि भविष्य में मुझे उनसे कोई जानकारी लेनी होगी.तो मैं स्वयं उनसे फोन पर बात करूंगा, बजाए खुफिया निगरानी के।"

उल्लेखनीय है कि अमेरिकी खुफिया विभाग के पूर्व जासूस एडवर्ड स्नोडेन द्वारा एनएसए की ओर से की जा रही खुफिया निगरानी का खुलासा किए जाने के बाद अमेरिका ने एक सीमिति बनाई थी। इस समिति से ह्नराप्त रिपोर्ट के आधार पर खुफिया निगरानी कार्यक्रम पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You