‘सीरिया में ब्रितानी लड़ाकुओं को सिखाया जा रहा जेहाद’

  • ‘सीरिया में ब्रितानी लड़ाकुओं को सिखाया जा रहा जेहाद’
You Are HereInternational
Monday, January 20, 2014-9:59 AM

लंदन: डेली टेलीग्राफ को दिए साक्षात्कार में एक बागी ने कहा है कि अलकायदा सीरिया में लड़ रहे सैंकड़ों ब्रितानी लड़ाकों को जेहादी बनने का प्रशिक्षण दे रहा है और उनसे अपने देश लौटने पर हमले करने की अपील कर रहा है। चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड अल-शाम (आईएसआईएस) के मुराद ने कहा कि यूरोप और अमेरिका से भर्ती किए गए अन्य लड़ाकों को भी घर लौटकर आतंकी प्रकोष्ठ बनाने से पहले कार बम बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

मुराद ने अपने पूर्व आईएसआईएस प्रशिक्षकों के बारे में कहा, ‘‘वे अक्सर आतंकी हमलों के बारे में बात करते थे।’’ मुराद ने अखबार को बताया, ‘‘विदेशियों को 9/11 और लंदन विस्फोटों पर गर्व है। कमरे में ब्रितानी, फ्रांसिसी और अमेरिकी मुजाहिद्दीनों ने बताना शुरू किया कि वे यूरोप और अमेरिका की किन जगहों पर बम विस्फोट या आत्मघाती हमला करना चाहते हैं।’’ मुराद ने बताया, ‘‘एक अमेरिकी ने कहा था कि उसका सपना व्हाइट हाउस को विस्फोट से उड़ाने का है।’’

मुराद ने अलकायदा समर्थित संगठन आईएसआईएस की सोच को ‘बहुत चरमपंथी’ बताया। ब्रिटेन की खुफिया सेवाओं के आकलन के अनुसार सीरिया में अभी लगभग 500 ब्रितानी लड़ाके हैं और खुफिया सेवाओं को डर है कि वे लोग चरमपंथ अपने साथ लेकर लौटेंगे। पुलिस ने बर्मिंघम, मध्य इंग्लैंड में 21 वर्षीय दो लोगों पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए सीरिया की यात्रा करने का अभियोग लगाया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You