नेपाल विधानसभा चुनाव: खतरे में है प्रचंड का नेतृत्व?

  • नेपाल विधानसभा चुनाव: खतरे में है प्रचंड का नेतृत्व?
You Are HereInternational
Monday, January 20, 2014-11:31 AM

काठमांडो: नेपाल के माओवादी पार्टी का दो दशक से अधिक समय तक बिना किसी चुनौती के प्रमुख रहने वाले पुष्प कमल दहल प्रचंड का नेतृत्व अब विधानसभा चुनाव में जबर्दस्त हार के बाद खतरे में है। पार्टी सूत्रों के अनुसार वरिष्ठ माओवादी नेता बाबूराम भट्टराई ने यह दलील देते हुए पार्टी में नेतृत्व परिवर्तन की मांग की है कि एक अकेले व्यक्ति ने 22 वर्ष से अधिक समय से यूसीपीएन-एम का नेतृत्व संभाला हुआ है। भट्टाराई ने यह मांग कल पार्टी की एक उच्चस्तरीय बैठक में उठाई।

नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री ने पार्टी की केंद्रीय समिति की उसके मुख्यालय में जारी बैठक में पार्टी नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे को जोरदार ढंग से उठाया। उन्होंने कहा कि एक ही व्यक्ति द्वारा लंबे समय तक पार्टी का नेतृत्व संभालने से पार्टी के भीतर ‘‘तानाशाही शासन’’ का जन्म हो सकता है। राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र ‘रिपब्लिका’ ने उनके हवाले से कहा, ‘‘यदि एक ही नेता सभी मोर्चों जैसे पार्टी संगठन, उसकी विचारधारा और उके अधिकारों लंबे समय तक नेतृत्व संभालता है तो यह पार्टी के भीतर तानाशाही को जन्म दे सकता है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You