फिर से चुनाव कराने की मांग की, हसीना सरकार को बताया अवैध

  • फिर से चुनाव कराने की मांग की, हसीना सरकार को बताया अवैध
You Are HereInternational
Monday, January 20, 2014-11:08 PM

ढाका: बांग्लादेश की विपक्षी नेता खालिदा जिया ने आज अपनी पहली जनसभा में समर्थकों से अवामी लीग की ‘अवैध’ सरकार को फिर से चुनाव कराने के लिए मजबूर करने को कहा। बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) ने अपनी चिर प्रतिद्वंद्वी एवं मौजूदा प्रधानमंत्री शेख हसीना से फौरन वार्ता का आयोजन करने तथा अस्थाई सरकार की कार्यप्रणाली पर फैसला करने को कहा।

68 वर्षीय नेता ने राजधानी में रैली कर रहे अपने हजारों समर्थकों से सड़कों पर उतर कर एक तटस्थ कार्यवाहक सरकार के तहत फिर से चुनाव कराए जाने की मांग करने को कहा। दो बार प्रधानमंत्री रह चुकीं जिया ने हसीना की सरकार को अवैध बताया और कहा कि सरकार के पास जनसमर्थन नहीं है। यह बल प्रयोग कर सत्ता में बने रहने की कोशिश कर रही है।

जिया ने कहा, ‘‘लेकिन इस तरह से कोई भी सरकार लंबे समय तक सत्ता में नहीं रह सकती है।’’ बीएनपी नीत 18 दलीय विपक्षी गठबंधन ने 5 जनवरी के चुनाव का बहिष्कार किया है। जिया ने राजधानी के सुहरावर्दी उद्यान पार्क में कहा, ‘‘यह सरकार अवैध है। शीघ्र चुनाव कराइए और अपनी लोकप्रियता की जांच करिए।’’ वहां, करीब 35,000 लोग एकत्र थे।

गौरतलब है कि जिया को चुनाव से दो हफ्ते पहले नजरबंद रखा गया था। पुलिस ने उनके घर के बाहर पहरा लगा रखा था। इसबीच, बीएनपी की स्थायी समिति के सदस्य महब्बर रहमान ने यहां सुहरावर्दी में रैली से पहले संवाददाताओं से कहा कि हम सरकार को कुछ विकल्प और अवसर देना चाहते हैं ताकि वार्ता के जरिए गतिरोध का हल हो सके।

उन्होंने बताया कि बंद और नाकेबंदी जैसे कार्यक्रमों से लोगों के बड़े पैमाने पर प्रभावित होने के चलते बीएनपी प्रमुख खालिदा जिया द्वारा किसी प्रदर्शन को संबोधित किए जाने की संभावना कम है। संचार मंत्री ओबैदुल कादिर ने कहा कि सरकार ने बीएनपी को रैली करने की इजाजत देकर वार्ता के लिए एक सौहार्दपूर्ण माहौल बनाने के प्रति अपनी गंभीरता साबित कर दी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You