हिंसा व संक्रामक रोगों से सिंधु घाटी की सभ्यता नष्ट हुई

  • हिंसा व संक्रामक रोगों से सिंधु घाटी की सभ्यता नष्ट हुई
You Are HereInternational
Tuesday, January 21, 2014-1:44 AM

वाशिंगटन: एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि करीब 4,000 साल पहले भारत और पाकिस्तान में लभगग 10 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली सिंधु घाटी की सभ्यता हिंसा और संक्रामक रोगों के चलते नष्ट हुई। पुरातात्विक अध्ययनों से पता चला है कि सिंधु घाटी के शहर 2200-1900 ईसा पूर्व से तेजी से विकसित हुए थे।

अमेरिका के अप्पलेशियन स्टेट यूनिवर्सिटी के मुख्य अध्ययनकर्ता जी. राबिंस सुग ने कहा है कि सिंधु घाटी सभ्यता का नष्ट होना और इसकी मानव आबादी का पुनर्बसाव लंबे समय से विवाद का विषय रहा है। जलवायु, अर्थव्यवस्था और सामाजिक बदलावों ने शहरीकरण तथा की प्रक्रिया तथा इसके नष्ट होने में भूमिका निभाई लेकिन इस बारे में बहुत कम जानकारी मिल पाई है कि इन बदलावों ने मानव आबादी को कैसे प्रभावित किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You