चीन को 'सोचि ओलंपिक' की सुरक्षा व्यवस्था पर पूरा भरोसा

  • चीन को 'सोचि ओलंपिक' की सुरक्षा व्यवस्था पर पूरा भरोसा
You Are HereInternational
Tuesday, January 21, 2014-2:45 PM

बीजिंग: चीन ने रूस के सोचि में अगले माह होने वाले शीतकालीन ओलंपिक खेलों के लिए की जा रही सुरक्षा व्यवस्था पर पूरा भरोसा जताया है।

चीन के उप विदेश मंत्री चेंग गुओपिंग ने आज कहा, "चीन को पूरा भरोसा है कि रूस सोचि में होने वाले शीतकालीन ओलंपिक खेलों के दौरान सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने में पूरी सक्षम हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच इन खेलों का आयोजन पूरी तरह सफल रहेगा।"

गुओपिंग ने बताया कि चीन सरकार सुरक्षा मामले को लेकर रूस सरकार के लगातार संपर्क में हैं। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ सहयोग जताने के लिए ओलंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह में शिरकत करने वाले हैं। चीन का शीतकालीन ओलंपिक में कोई खास प्रदर्शन का रिकार्ड नहीं रहा है। ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में जहां उसने 201 स्वर्ण पदक जीते थे, जबकि शीतकालीन ओलंपिक में उसे महज नौ स्वर्ण पदकों से संतोष करना पड़ा था। इस बीच जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के भी सोचि ओलंपिक में हिस्सा लेने की खबर है। हालांकि चीन ने इस दौरान जिनपिंग और आबे के बीच कोई औपचारिक मुलाकात होने की संभावना से इनकार किया है।
 
उधर अमेरिका ने खेलों के दौरान किसी भी आतंकवादी हमले से निपटने के लिए वायु सेना और नौसेना को तैयार रहने के निर्देश दिए हैं तथा काला सागर में दो जहाज तैनात करने की भी योजना बनाई है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने यहां बताया कि अमेरिकी सेना के कमांडर शीतकालीन ओलंपिक के दौरान किसी आतंकवादी हमले की सूरत में अपने खिलाडियों तथा नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए पुख्ता योजना बना रहे हैं।

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते जारी एक वीडियो में दो इस्लामिक आतंकवादियों ने चेचेन उग्रवादियों की वेबसाइट पर कहा था, "हम आपके लिए आश्चर्यजनक घटना लेकर आएंगे और यह इन खेलों में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों तथा प्रतिनिधियों के लिए भी खास तोहफा होगी। सोमालिया, अफगानिस्तान, सीरिया और विश्व के किसी भी हिस्से में रोजाना बह रहे मुस्लिम खून के लिए यह हमारा बदला होगा।"
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You