बातचीत के लिए राजी हुए सीरिया के दोनों गुट

  • बातचीत के लिए राजी हुए सीरिया के दोनों गुट
You Are HereInternational
Saturday, January 25, 2014-1:58 AM

जेनेवा: सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद की सरकार और उनसे सश संघर्ष करने वाले विपक्षी गुटों ने शनिवार को आमने-सामने बातचीत करने का आज फैसला किया। दोनों पक्षों का यह फैसला बिल्कुल अप्रत्याशित माना जा रहा है क्योंकि अब तक दोनों पक्ष किसी भी हाल में एक दूसरे की बात सुनने पर राजी नहीं थे। सीरिया सरकार और विपक्षी संगठन को एक टेबल पर बातचीत के लिए एकत्र करने के प्रयास में जुटे संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग के मध्यस्थ लखधर ब्राहिमी आखिरकार अपने प्रयास में सफल रहे। उन्होंने दोनों धुर विरोधियों से अलग-अलग बात करके उन्हें आमने-सामने बात करने के लिए राजी कर लिया है।

ब्राहिमी ने कहा कि दोनों पक्ष इस बात को समझते हैं कि जेनेवा वार्ता सीरिया को बचाने के लिए ही की जा रही है। गौरतलब है कि मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सीरिया सरकार ने आज एक ओर यह धमकी दी थी कि अगर शनिवार तक सीरिया के मसले पर गंभीर बातचीत नहीं होती है तो वह शांति वार्ता से अपने पैर पीछे खींच लेगा तो दूसरी ओर विपक्षी मौजूदा सीरियाई राष्ट्रपति असद की सत्ता के गलियारों से रवानगी और अंतरिम सरकार के गठन की शर्त पर वार्ता में शामिल होना चाहते थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You