Subscribe Now!

जालसाजी मामला: दिनेश डिसूजा ने खुद को बताया निर्दोष

  • जालसाजी मामला: दिनेश डिसूजा ने खुद को बताया निर्दोष
You Are HereInternational
Saturday, January 25, 2014-4:23 PM

न्यूयॉर्क: राष्ट्रपति बराक ओबामा पर आलोचनात्मक वृतचित्र का निर्माण करने वाले भारतीय मूल के अमेरिकी लेखक दिनेश डिसूजा ने एक अमेरिकी अदालत में अपने उपर लगे संघीय वित्तीय कानूनों का उल्लंघन करने के आरोपों को खारिज किया है और खुद के निर्दोष होने का दावा किया है।

मैनहटन में रहने वाले और भारत में पैदा हुए संघीय अभियोजक प्रीत भराड़ा ने 52 वर्षीय डिसूजा पर वर्ष 2012 में रिपब्लिकन वेंडी लोंग के अमेरिकी सीनेट के प्रचार अभियान में गैर कानूनी योगदान देने के आरोप लगाए। मुंबई निवासी डीसूजा को कल संघीय अदालत में पेश किया गया, जहां उन्होंने 20 हजार डॉलर के गैर कानूनी प्रचार अभियान में योगदान के आरोप में खुद के निर्दोष होने संबंधी एक करार किया।

गौरतलब है कि यदि उन्हें दोषी पाया गया तो सात साल की जेल की सजा का सामना करना पड़ेगा। डीसूजा को पांच लाख डॉलर के बांड पर रिहा किया गया था और अमेरिका के भीतर उनकी आवाजाही भी सीमित कर दी गई थी। इस मामले में अगली सुनवाई मार्च में होगी। अमेरिकी कानूनों के तहत कोई भी व्यक्ति किसी राजनीतिक उम्मीदवार को अधिकतम पांच हजार डॉलर की राशि दान दे सकता है। प्राइमरी प्रचार के लिए 2500 डॉलर और आम चुनाव प्रचार के लिए 2500 डॉलर।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You