स्कूल के दिनों में लापरवाह छात्र थे ओबामा

  • स्कूल के दिनों में लापरवाह छात्र थे ओबामा
You Are HereInternational
Friday, January 31, 2014-11:28 AM

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा स्कूल के दिनों में सुबह उठकर पढ़ाई करते थे, इसके बावजूद वह एक लापरवाह छात्र थे। ओबामा ने कल टेनेसी में शिक्षा नीति पर एक भाषण में कहा कि जब वह विदेश में अपनी मां के साथ रहते थे, तो उनकी मां उन्हें सुबह साढ़े चार-पांच बजे ही पढऩे के लिए उठा देती थी कि ताकि वह पढ़ाई में अमेरिकी बच्चों से पीछे न रह जाएं। 

ओबामा ने कहा, "मैं आनाकानी करता था तो वह कहती थीं कि  देखो, हम यहां पिकनिक मनाने नहीं आए हैं।" वह समझती थी कि यदि उनके बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर लेते हैं तो धनवान न होने के बावजूद दुनिया में उनके लिए कई विकल्प खुल जाएंगे।''

ओबामा ने कहा कि वे भी बचपन में दूसरे बच्चों की तरह ही थे, संभवत: शिक्षा के प्रति वह उनसे कहीं ज्यादा गैर जिम्मेदार थे। उन्होंने कहा कि उनकी मां अकेली थी और पैसे की भी कमी थी। इसके बावजूद घर पर काफी प्रोत्साहन मिला। उसके बाद शिक्षकों से और समाज से तथा ऐसे देश से मदद मिली, जो छात्रवृति देने का इच्छुक था।''

उन्होंने कहा कि वे उन लोगों के भी शुक्रगुजार हैं, जिन्होंने गलती करने के बावजूद उन्हें दूसरा मौका दिया। कार्यक्रम के दौरान मौजूद छात्रों से उन्होंने कहा, "और मैं चाहता हूं कि हर अमेरिकी युवक को वह मौका मिले, हरेक को।"

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You