तालिबान से शीघ्र वार्ता चाहते हैं शरीफ

  • तालिबान से शीघ्र वार्ता चाहते हैं शरीफ
You Are HereInternational
Friday, January 31, 2014-6:29 PM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शुक्रवार को तालिबान के साथ वार्ता के लिए गठित समिति के सदस्यों के साथ मुलाकात की और उन्हें शांतिवार्ता तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए। डॉन ऑनलाइन के अनुसार, बैठक में वार्ता के प्रारूप और रणनीति पर विस्तृत चर्चा हुई। शरीफ ने वार्ता के लिए केवल एक ही पूर्व शर्त रखी है कि वार्ता के दौरान कोई भी आतंकी हमला नहीं होगा।

समिति में प्रधानमंत्री के राष्ट्रीय मामलों के सलाहकार इरफान सिद्दीकी, एक वरिष्ठ पत्रकार रहीमुल्ला यूसुफजई, अफगानिस्तान मामलों के विशेषज्ञ और पूर्व राजदूत रुस्तम शाह मुहम्मद और सीआईए के एक पूर्व अधिकारी अमीर शाह शामिल हैं। इस समिति को गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान का सहयोग मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने बुधवार को कहा था कि तालिबान आतंकवादियों द्वारा सुरक्षाकर्मियों पर ताजा हमलों के बावजूद सरकार ने वार्ता को आगे बढ़ाकर शांति का एक और मौका देने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह चाहते हैं कि शांति को बहाल करने के प्रयास जारी रहें और गृह मंत्रालय को निर्देश दिया कि वह वार्ता में हुई प्रगति से उन्हें अवगत कराए। खबरों में कहा गया है कि बैठक में फैसला लिया गया कि तालिबान के साथ वार्ता के दौरान समिति स्वायत्त होगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You