इराक में जनवरी में हिंसा की भेंट चढ़े 1202 लोग

  • इराक में जनवरी में हिंसा की भेंट चढ़े 1202 लोग
You Are HereInternational
Saturday, February 01, 2014-10:15 AM

बगदाद: इराक में पिछले एक दशक से हिंसा का दौर जारी है और इसी कड़ी में गत महीने जनवरी में विभिन्न हिंसक घटनाओं में 1000 से अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी, जिनमें से अधिकतर आम नागरिक थे। इस दौरान सुरक्षाबल की कार्रवाई में 189 आंतकवादी मारे गए और 548 गिरफ्तार किए गए। 

इराक के गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय से जुटाए गए आंकडें दिखाते हैं कि पिछले महीने जनवरी में 795 आम नागरिकों, 122 सैनिकों और 96 पुलिसकर्मियों समेत 1013 लोग हिंसा की भेंट चढ़े। सुरक्षाबल की कार्रवाई में 189 आंतकवादी मारे गए और 548 गिरफ्तार किए गए।  इनके अलावा जनवरी में हुई हिंसक घटनाओं में 1633 आम नागरिकों, 238 सैनिकों और 153 पुलिसकर्मियों समेत 2024 लोग घायल हुए हैं।

अप्रैल 2008 के बाद पहली बार इराक में एक महीने में इतनी अधिक संख्या में लोग मारे गए हैं। अप्रैल 2008 में यहां 1073 लोग मारेगए थे। इराक में शिया और सुन्नी समुदाय के बीच वर्षों से चला आ रहा वैमनस्य अपने चरम पर है और यहां शिया समुदाय को निशाना बनाकर  लगभग हर दिन बम हमले किये जाते हैं। सुरक्षाबलों के खिलाफ आतंकवादी अधिकतर आत्मघाती हमलों और गोलीबारी का सहारा लेते हैं। यहां कई हमलों की जिम्मेदारी कोई आतंकवादी संगठन नहीं लेता है, लेकिन अधिकतर हमलों के पीछे अलकायदा से संबंधित संगठनों या कट्टर सुन्नह सुगठनों का हाथ माना जाता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You