बांग्लादेश में जमात-ए-इस्लामी का बंद का आह्वान

  • बांग्लादेश में जमात-ए-इस्लामी का बंद का आह्वान
You Are HereInternational
Saturday, February 01, 2014-3:06 PM

ढाका: बांग्लादेश की जमात-ए-इस्लामी पार्टी ने पार्टी प्रमुख मतीउर रहमान निजामी को 10-ट्रक हथियार तस्करी के एक मामले में मौत की सजा सुनाए जाने के विरोध में सोमवार को राष्ट्रव्यापी बंद का आह्वान किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया पार्टी के कार्यकारी महासचिव शफीकुर रहमान ने शुक्रवार रात जारी एक बयान में एक दिन के बंद की घोषणा की है। उन्होंने अदालत के फैसले को निजामी पर आरोप गढ़कर उन्हें मारने की साजिश बताया।

गौरतलब है कि बीएनपी के 2001 से 2006 तक के शासनकाल के दौरान उद्योग मंत्री रहे निजामी को हथियार तस्करी के दो मामलों में 13 लोगों के साथ आजीवन कारावास और मौत की सजा सुनाई गई थी। भारत की अलगाववादी संस्था युनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम्स (उल्फा) के अलग हुए गुट के नेता परेश बरुआ भी सजा पाने वाले 14 लोगों में से एक है। इन सभी लोगों पर लगभग 10 साल पहले बांग्लादेश में 10 ट्रक हथियारों की तस्करी का आरोप है, जिसमें कथित तौर पर पाकिस्तान की इंटर-सर्विसिस इंटेलिजेंस (आईएसएआई) भी शामिल थी।

2 अप्रैल 2004 में कर्णफुली नदी के पास चटगांव यूरिया फर्टीलाइजर लिमिटेड (सीयूएफएल) के जेटी पर 10 ट्रकों में हथियारों का बड़ा जखीरा बरामद किया गया था, जो कि उल्फा को पहुंचाया जाना था। इन हथियारों में विभिन्न प्रकार की 4,430 आधुनिक बंदूकें, 840 रॉकेट लॉन्चर, 300 रॉकेट, 27,020 ग्रेनेड, 2,000 ग्रेनेड लॉन्चिंग ट्यूब, 6,392 मैग्जीन और 110 लाख से ज्यादा गोलियां थीं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You