चीन ने जापान को अफवाह न फैलाने की चेतावनी दी

  • चीन ने जापान को अफवाह न फैलाने की चेतावनी दी
You Are HereInternational
Sunday, February 02, 2014-12:59 PM

बीजिंग: चीन ने जापान को चेतावनी दी है कि वह हवाई रक्षा पहचान क्षेत्र को लेकर अफवाह न फैलाए। साथ ही उसने कहा है कि उसे दक्षिण-पूर्व एशिया के देशों से कतई डरा हुआ नहीं है। चीन के विदेश मंत्रालय ने कल देर रात जारी एक बयान में कहा, "जापान की दक्षिण पंथी ताकतें अफवाह फैला रही हैं कि चीन जल्द ही दक्षिण चीन सागर में हवाई रक्षा पहचान क्षेत्र बनाने जा रहा है, जो विशुद्ध रूप से अपनी सैन्य योजनाओं को छिपाने और उससे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का ध्यान भटकाने की कोशिश है।"

मंत्रालय ने कहा, "हम उन ताकतों को चेतावनी देते हैं कि वे अपने स्वार्थी हितों के लिए अफवाह न फैलाएं और (क्षेत्र में) तनाव न बढ़ाएं।" चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा, "स्पष्ट शब्दों में कहा जाए तो चीन को आसियान देशों से कोई खतरा नहीं है। चीन दक्षिण चीन सागर के आस-पास के देशों के साथ संबंधों और वहां की वर्तमान स्थिति को लेकर आशावादी है।"

पिछले साल चीन ने पूर्वी चीन सागर में 'हवाई रक्षा पहचान क्षेत्र' बनाने की घोषणा कर जापान, अमेरिका और दक्षिण कोरिया को चौंका दिया था। इसमें दियाओयू (जापान में सेंकाकू) द्वीप भी शामिल है, जिस पर चीन और जापान दोनों अपना अधिकार जताते रहे हैं। अमेरिका भी सेंकाकू पर जापान के प्रशासनिक अधिकार को स्वीकृति देता रहा है। इस कारण पिछले कुछ सालों से खराब होते चीन और जापान के रिश्तों में और खटास आ गई है।

बयान में कहा गया है कि फिलहाल दक्षिण चीन सागर में ऐसे किसी क्षेत्र की जरूरत नहीं है। उल्लेखनीय है कि दक्षिण चीन सागर के जलक्षेत्र पर चीन, वियतनाम, मलेशिया, ब्रुनेई, फिलिपींस और ताईवान अपना हक जताते रहे हैं।

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You