पेशावर में कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ पोलियो टीकाकरण अभियान

  • पेशावर में कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ पोलियो टीकाकरण अभियान
You Are HereInternational
Sunday, February 02, 2014-4:31 PM

पेशावर: पाकिस्तान के पेशावर शहर में और आस-पास के इलाकों में पोलियो टीकाकरण अभियान रविवार को भारी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ। डॉन न्यूज के मुताबिक, सुरक्षा कारणों के चलते अधिकारियों ने क्षेत्रों में मोबाइल सेवाएं स्थगित कर दी और मोटरसाइकिल पर पीछे बैठकर सवारी करने को प्रतिबंधित कर दिया है। यह प्रतिबंध सुबह 8.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक प्रभाव में रहेगा, जब बच्चों को पोलियो  की खुराक पिलाई जाएगी। पोलियो अभियान में पेशावर और खैबर पख्तूख्वा के आसपास के इलाकों में शून्य से लेकर पांच साल तक की उम्र के 800,000 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है।

गौरतलब है कि प्रांत के शिक्षकों ने कम मजदूरी और सुरक्षा कारणों के चलते पोलियो टीकाकरण अभियान में हिस्सा लेने से मना कर दिया था। लेकिन सरकार के साथ सफल बातचीत के बाद वे काम पर वापस आने को सहमत हुए। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएयओ) ने 17 जनवरी को कहा था कि पेशावर को दुनिया का सबसे बड़ा पोलियोग्रस्त क्षेत्र घोषित किया था और टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए तत्काल कदम उठाने को कहा था। 

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, पाकिस्तान में 80,000 बच्चों को पोलियो के खिलाफ प्रतिरक्षित नहीं किया गया है। इनमें से 22,000 बच्चे खैबर पख्तूनख्वा से हैं। पोलियो उन्मूनल के प्रयास, आतंकवादी समूहों के जानलेवा हमलों के कारण गंभीर रूप से प्रभावित हुए हैं। आंतकवादी समूह, पोलियो टीकाकरण को जासूसी के तौर पर देखते हैं और यहां लंबे समय से अफवाह है कि पोलियो ड्रॉप से बांझपन हो जाता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You