नौसैनिकों का मसला सुलझाना चाहता है इटली

  • नौसैनिकों का मसला सुलझाना चाहता है इटली
You Are HereEngland
Monday, February 03, 2014-6:18 PM
नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय में सोमवार को इतालवी नौसैनिकों के मामले में होने वाली सुनवाई के  सिलसिले में रविवार को भारत पहुंचे इटली सरकार के विशेष राजनयिक स्टेफन डी मिस्तुरा ने कहा कि उनकी उपस्थिति का उद्देश्य यह संदेश पहुंचाना है कि इटली मामले को सुलझाना चाहता है। इतालवी न्यूज एजेंसी एएनएसए ने बताया कि डी मिस्तुरा, 15 फरवरी 2012 केरल तट के पास को दो भारतीय मछुआरों की हत्या के संदिग्ध दो नौसैनिकों मासिमिलियानो लेटोरे और साल्वेटर गिरोने के मामले को शुरुआत से देख रहे हैं। लेकिन अभी तक उन्होंने केरल या दिल्ली की अदालत में जाने से नजरअंदाज किया है क्योंकि यह भारतीय अधिकार क्षेत्र था। 


डी मिस्तुरा ने इतालवी दूतावास में एकत्र इतालवी पत्रकारों से रविवार को कहा, ‘‘मामले को सुलझाने के लिए इटली के दृढ़ संकल्प के प्रतीक के तौर मैं अदालत में रहूंगा।’’ एजेंसी के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘‘यह कदम गणराज्य के आक्रोश और संकल्प का प्रदर्शन करने और भारतीय अधिकार क्षेत्र को दर्शाने के लिए उठाया गया है कि इटली इस मामले पर अंतिम जवाब चाहता है।’’ यूरोपीय अयोग ने कहा है कि इतालवी नौसैनिकों का मुद्दा यूरोपीय संघ और भारत के संबंधों को प्रभावित कर सकता है। इटली के प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा ने पिछले सप्ताह कहा था कि नौसैनिकों की दुर्दशा पर जागरूकता फैलाने के लिए इटली अपने अंतर्राष्ट्रीय सहयोगियों के साथ काम  करेगा।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You