पानी से छपाई कर पैसा बचाएगा वॉटर जेट प्रिंटर

  • पानी से छपाई कर पैसा बचाएगा वॉटर जेट प्रिंटर
You Are HereInternational
Tuesday, February 04, 2014-6:03 AM

टोक्‍यो: बहुत जल्‍द लोगों को प्रिंटर की इंक खत्‍म होने की समस्‍या से निजात मिल जाएगी। शोधकर्ताओं ने एक ऐसा प्रिंटर बनाया है जिससे पानी के जरिए प्रिंटिंग की जा सकती है। इसमें प्रयुक्‍त कागजों का कई बार इस्‍तेमाल किया जा सकता है। शोधकर्ताओं के अनुसार इस तकनीक से प्रिंटिंग का खर्च इंक जेट प्रिंटर की तुलना में सिर्फ एक प्रतिशत रह जाएगा।

जापान के रसायनशास्त्रियों ने इस नई प्रिंटिंग तकनीक को ‘वॉटर जेट’ नाम दिया है। इसमें प्रिंटिंग के लिए एक खास तरह के कागजों का इस्‍तेमाल किया गया है। इन कागजों पर एक अदृश्‍य डाई लगाई गई है जो पानी के साथ क्रिया कर अक्षरों को प्रिंट कर देती है। प्रिंटिंग के लगभग 24 घंटे बाद यह अक्षर गायब हो जाते हैं और कागज दोबारा उपयोग में लाया जा सकता है।

शोधकर्ता याओ एन झांग के अनुसार कार्यालयों में लगभग 40 प्रतिशत प्रिंट्स सिर्फ एक बार पढऩे के काम आते हैं। उसके बाद उनकी उपयोगिता खत्‍म हो जाती है। ऐसे में इस नई तकनीक से एक ही कागज को दर्जनों बार इस्‍तेमाल किया जा सकता है। झांग ने कहा कि यदि इस ‘वॉटर जेट’ प्रिंटर में एक कागज को 50 बार उपयोग में लाया जाए तो प्रिंटिंग की लागत इंक जेट प्रिंटर की तुलना में 1 प्रतिशत ही रह जाएगी। अगर एक कागज का एक दर्जन बार भी इस्‍तेमाल कर लिया जाए तो लागत में 85 प्रतिशत तक की कमी लाई जा सकती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You