एड्स के डर से पति को उतारा मौत के घाट

  • एड्स के डर से पति को उतारा मौत के घाट
You Are HereInternational
Thursday, February 06, 2014-4:37 PM

किगाली: रवांडा की एक महिला ने हाल में पति को इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि वह अपनी उस विधवा भाभी को घर ले आया, जिसके पति की मौत की वजह लाइलाज एड्स माना जा रहा था। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट में दी गई।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, घटना दक्षिणी रवांडा स्थित गिसागारा जिले में हुई। अधेड़ महिला एनोंसियाता कैंपोरोरो ने पति एनास्लेट माज्यांबर (48) द्वारा विधवा भाभी को सहारा देने के चलते उसकी हत्या की साजिश रची। स्थानीय भाषा के दैनिक समाचारपत्र उमरयांगो ने ग्रामीणों और पुलिस के हवाले से पुष्टि की कि महिला ने पति के भाभी को घर में रखने की योजना का पुरजोर विरोध किया। महिला को डर था कि विधवा भी एचआईवी संक्रमित होगी।

जब जिद्दी पति पूरे रीति-रिवाज के साथ भाभी को घर ले आया तो पत्नी ने वैवाहिक संबंधों में रहने से इंकार किया। यही नहीं उसने पहले एचआईवी टेस्ट कराने की मांग की। पति ने इससे साफ इंकार कर दिया। परिणामस्वरूप उनकी गृहिस्थी में लगातार कहा-सुनी और झगड़े हुए। परेशान एवं सशंकित पत्नी ने एचआईवी संक्रमण से स्वयं को बचाने के लिए अपने बेटे और बहन संग मिलकर पति की हत्या की साजिश रची। उसने उनकी मदद से पति को मौत के घाट उतार दिया।

रवांडा स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, मध्य अफ्रीकी देश में असुरक्षित यौन संबंध और एक से अधिक साथी से यौन संबंध रखना एड्स की प्रमुख वजह है। यहां करीब 300,000 लोग एचआईवी के साथ जी रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You