भारत के अनुकूल पनडुब्बी बनाने की तैयारी में जुटा है रूस

  • भारत के अनुकूल पनडुब्बी बनाने की तैयारी में जुटा है रूस
You Are HereInternational
Saturday, February 08, 2014-1:43 AM

मास्को: रूस ने कहा है कि वह अपनी पनडुब्बियों को भारतीय जररतों के अनुकूल बना रहा है। वह भारतीय नौसेना के लिए जारी होने वाले टेंडर की प्रक्रिया में शामिल हो सके। सेंट पीटर्सबर्ग स्थित रुबिन शिप डिजाइन ब्यूरो के मुख्य डिजायनर इगोर मालचोनोव ने आज यहां बताया कि वह पनडुब्बी के नए डिजाइन में ब्रह्मोस मिसाइल तथा पनडुब्बी में आक्सीजन लेने की भारत निर्मित एअर इंडिपेंडेंट प्रोपल्सन प्रणाली को शामिल करेगा।

उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी भारत के पनडुब्बी सौदे की प्रक्रिया में शामिल हो सकेगी। रबिन डिजाइन ब्यूरो ने कहा है कि कंपनी चौथी पीढी की आमुर 1650 पनडुब्बी को भारत के करीब 12 अबर डालर के टेंडर में पेश करेगी। भारत अपनी समुद्री सीमा को और चौकस बनाने के लिए जल्दी ही टेंडर जारी करके छह स्टैल्थ डीजल इलेक्ट्रिक पनडुब्बी खरीदेगा। रूस के अलावा फ्रांस जर्मनी तथा स्पेन भी भारत के हथियार खरीद टेंडर में शामिल होने के इच्छुक है। भारत सरकार शीघ्र ही इस बारे में टेंडर जारी करने की योजना पर विचार कर रही है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You