आतंकवाद निरोधक कानून के तहत मुकदमें से संबंध बिगडेंगे: इटली

  • आतंकवाद निरोधक कानून के तहत मुकदमें से संबंध बिगडेंगे: इटली
You Are HereInternational
Tuesday, February 11, 2014-12:54 AM

रोम: इटली ने आज कहा कि उनके दो नौसैनिकों के विरूद्ध जल दस्यु तथा आतंकवाद विरोधी कानूनों के अंतर्गत मुकदमा चलाये जाने से इटली तथा यूरोपीय संघ के साथ भारत के संबंधों पर प्रतिकूल प्रभाव पडेगा। इटली के इन दो नौसैनिकों के विरूद्ध भारत के दो मछुआरों की हत्या का आरोप हैे।

मसीमिलियानो तथा सलबातोर गिरोन उस सैनिक सुरक्षा दल के सदस्य थे जो भारतीय तट पर मालवाहक जहाज की रक्षा कर रहा था। इन नौसैनिकों ने फरवरी 2012 में दोनों भारतीय मछुआरों को जल दस्यु समझकर उनके ऊपर गोली चला दी थी लेकिन अब यह मामला दोनों देशों के लिये राजनीति ²ष्टि से संवेदनशील बन चुका है।
   
भारत के एटार्नी जनरल ने शुक्रवार को कहा कि इटली के दोनों सैनिकों के विरूद्ध दो भारतीय मछुआरों की हत्या का मामला जल दस्यु तथा आतंकवाद विरोधी कानून के अंतर्गत चलना चाहिये किन्तु इन्हें मृत्यु दंड नहीं दिया जाना चाहिये। भारतीय उच्चतम न्यायालय इसी महीने एटार्नी जनरल की सलाह पर विचार कर निर्णय करने वाला है लेकिन इस फैसले का इटली तथा भारत के संबंधों पर प्रतिकूल असर पडेगा। दोनों नौसैनिकों के विरूद्ध आरोप पत्र अभी दाखिल होना है। इस आधार पर उनके विरूद्ध मुकदमा चलाया जायेगा। दोनों अभी जमानत पर हैं औेर इस समय भारत में ही हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You