एक बार फिर से शुरू हुई मुशर्रफ पर राजद्रोह मामले की सुनवाई

  • एक बार फिर से शुरू हुई मुशर्रफ पर राजद्रोह मामले की सुनवाई
You Are HereInternational
Tuesday, February 11, 2014-4:42 PM

इस्लामाबाद: पाक के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर सोमवार को एक बार फिर राजद्रोह मामले का मुकदमा चलाने के लिए स्पेशल कोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई। सुनवाई के दौरान सरकारी वकील अकरम शेख ने आरोप लगाया कि मुशर्रफ एक वकील ने बहस के बाद उन पर हमला करने की कोशिश की।

जिस पर जस्टिस फैजल अरब ने कहा कि इसका फैसला सीसीटीवी की फुटेज देखने के बाद होगा। उन्होंने डॉक्टर रांझा को उनके तर्क पेश करने के लिए कहा। मुशर्रफ को इसी बीच एंटी टेरेरिज्म कोर्ट में पेश होने से छूट दी गई। यह कोर्ट जजों को बंधक बनाने के मामले की सुनवाई कर रहा है।

गौरतलब है कि सरकारी वकील के साथ मुशर्रफ और उनके वकील एंटी टेरेरिज्म कोर्ट में सुनवाई के लिए पेश हुए। सिद्दीकी ने मुशर्रफ की डॉक्टरी रिपोर्ट जमा करवाई और कोर्ट को बताया कि मुशर्रफ पूरी तरफ ठीक नहीं हुआ है। उन्होंने अदालत से कहा कि पूर्व राष्ट्रपति को मामले की सुनवाई के लिए पेश होने से छूट दी जाए। इस अनुरोध को सरकारी वकील ने चुनौती दी। हालांकि अदालत ने मुशर्रफ को सोमवार की सुनवाई में मौजूद होने से छूट दे दी और मामले को 24 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया।

मुशर्रफ के मामले की सुनवाई कर रही स्पेशल कोर्ट ने उन्हें 18 फरवरी को पेश होने के लिए तलब किया था। इसी के साथ उन्हें चेतावनी भी दी थी कि पेश न होने पर उनके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया जाएगा। विशेष अदालत की  सुनवाई में मुशर्रफ एक भी बार मौजूद नहीं हुए। सरकार ने मुशर्रफ के विरूद्ध राजद्रोह का मुकदमा चलाने के लिए स्पेशल कोर्ट बनाया था। इसके अतिरिक्त मुशर्रफ को 2 जनवरी को हदयाघात की समस्या होने पर रावलपिंडी के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। मुशर्रफ पर संविधान खत्म करने, आपातकाल लगाने और जजों को बंधक बनाने के आरोप में राजद्रोह का मुकदमा चल रहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You