स्वदेश भेजा जाएगा भारतीय मछुआरे का शव

  • स्वदेश भेजा जाएगा भारतीय मछुआरे का शव
You Are HereInternational
Friday, February 14, 2014-6:18 PM

कराची: एक भारतीय मछुआरे का शव कल स्वदेश भेजे जाने की संभावना है। मछुआरे भीखा लाखा शियाल की पिछले साल 29 दिसंबर को कराची की एक जेल में स्वाभाविक मौत हो गई थी और भारत और पाकिस्तान द्वारा तकनीकी औपचारिकताएं पूरी नहीं हो पाने के कारण उसका शव यहां एक शवगृह में रखा है। एक भारतीय राजनयिक सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘‘इस प्रक्रिया को तेज करने की कोशिश में महावाणिज्य दूत विभाग के हमारे द्वितीय सचिव कराची में मौजूद हैं। उन्हें अब तक शव नहीं सौंपा गया है।’’

सूत्रों ने कहा कि अगर शव कल सौंपा जाता है तो भारतीय अधिकारियों की शव को कल ही पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की फ्लाइट से मुंबई भेजने की योजना है जहां से शव को शियाल के गुजरात स्थित पैतृक गांव भेजा जाएगा। सूत्रों ने कहा कि अगर किसी कारण से शव कल नहीं सौंपा गया तो संभावना है कि इसे सोमवार को पीआईए की अगली उड़ान से भेजा जाए। इस महीने की शुरूआत में, एक अन्य भारतीय मछुआरा किशोर भगवान कराची की एक जेल में रहस्यमयी परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

भारत ने पाकिस्तान से पिछले महीने शियाल के शव को स्वदेश भेजने की प्रक्रिया तेज करने के लिए कहा था। भारतीय सूत्रों ने यहां कहा कि उन्हें शियाल की मौत के बारे में तब पता चला जब दोनों देशों ने एक जनवरी को कैदियों की सूची साझा की थी। पाकिस्तानी सूची में शियाल को ‘‘मृत’’ बताया गया था। शियाल को पाकिस्तानी जल क्षेत्र में घुसने के लिए 25 अक्तूबर को अरब सागर में पाकिस्तानी समुद्री सुरक्षा एजेंसी द्वारा कई अन्य मछुआरों के साथ गिरफ्तार किया गया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You