ज्वालामुखी विस्फोट का असर दो लाख लोगों पर

  • ज्वालामुखी विस्फोट का असर दो लाख लोगों पर
You Are HereInternational
Friday, February 14, 2014-7:28 PM

जकार्ता: इंडोनेशिया की घनी आबादी वाले जावा द्वीप में एक ज्वालामुखी के विस्फोट से लगभग एक लाख लोग अपना घर-बार छोड़कर भाग गए। कई हवाई अड्डों से विमानों की उड़ान रद्द कर दी गई और इससे निकली राख, बालू तथा लावा 17 किलोमीटर के दायरे में आकाश में फैल गया। पूर्वी जावा प्रान्त के माउन्ट केलूद के ज्वालामुखी में कल रात के विस्फोट से आकाश में राख फैल गई जिससे सात हवाई अड्डों से विमानों की उड़ान रोक दी गई। इससे हजारों विमान यात्रियों पर असर पड़ा।

जावा के केवल एक हवाई अड्डे से जकार्ता के लिए विमान आ और जा रहे हैं। ज्वालामुखी के विस्फोट का असर लगभग दो लाख लोगों पर पड़ा है। विस्फोट स्थल के दस किलोमीटर के दायरे में केवल कुछ ही लोग रह गए हैं लेकिन उन्हें भी अब हटाया जा रहा है। माउन्ट केलूद का ज्वालामुखी इंडोनेशिया के उन 130 ज्वालामुखी में से हैं, जो सक्रिय हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You